आज की राजनीति अवसरवादी: गोविंदाचार्य

0
paudha

परवेज़ अख्तर/सीवान:- ​आरएसएस के प्रचारक व बीजेपी के संगठन मंत्री रह चुके देश के जाने माने विचारक व राष्ट्रीय स्वाभिमान आंदोलन के संरक्षक केएन गोविंदाचार्य ने बुधवार को भगवानपुर में कहा कि आज की राजनीति अवसरवादी हो गई है। आमलोगों में राजनीति की साख घटी है। नए प्रयोगों की आवश्यकता व अहमियत हो गई है। ये जनता के बीच फैल रहे असुरक्षा का परिणाम है। किसानों की आत्महत्या अवसाद का लक्षण है। समाज को आजीविका का संकट घेरता जा रहा है। इसके लिए समाज को अपने बल पर सोचना पड़ेगा। कहा कि भारत के विकास के लिए जन, जमीन, जल, जंगल व जानवरों के संरक्षण की आवश्यकता है। इसी उद्देश्य से भारत विकास संगम की ओर से 25 से 31 दिसम्बर तक कर्नाटक के विजयपुर(बीजापुर) में बसवराजा पाटिल व संत सिधेश्वर स्वामी के सहयोग से महासम्मेलन आयोजित किया गया है। इसमें देशभर के करीब बारह लाख लोगों के आने की संभावना है। उन्होंने देश में आपातकाल(इमरजेंसी) के समय में अपनी भूमिका की चर्चा की। कहा कि उनके सामान्य रूप में रहने के कारण पुलिस उन्हें पहचान नहीं पाई और उनके बदले संघ के सरसंघचालक पं. भोलानाथ झा को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने आजादी के बाद से अबतक की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करते हुए कहा कि आजादी के बाद से सन 1965 तक जनता का कम सत्ता का महत्त्व अधिक रहा। श्री गोविंदाचार्य सीवान से बनियापुर क्षेत्र जाने के क्रम में भगवानपुर में थोड़ी देर के लिए रुके थे। उनके साथ राष्ट्रीय संगठन मंत्री बौसव राजा पाटिल भी आए थे। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने फूलमाला पहना स्वागत किया। किसानों ने अंगवस्त्र देकर उन्हें सम्मानित किया। इस दौरान प्रखंड मुख्यालय के एसएस हाईस्कूल परिसर में आम का पौधा लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। इस मौके पर सियाराम प्रसाद, मनोरंजन कुमार सिंह, बीजेपी प्रखंड अध्यक्ष अवधेश कुमार पाण्डेय, स्कूल के हेडमास्टर मैनेजर बाबू, सुजीत कुमार पाण्डेय, प्रगतिशील किसान अशोक कुमार सिंह, सुरेन्द्र सिंह, कमल सोनी, शिवशंकर पाण्डेय, विनोद कुमार तिवारी, शम्भूनाथ उपाध्याय, युगल किशोर उपाध्याय व विरेन्द्र सिंह मौजूद थे।