गणतंत्र दिवस पर दर्दनाक हादसा: झंडोत्तोलन के दौरान करंट से चार बच्‍चे झुलसे….एक की मौत….

0

बक्‍सर: जिले के इटाढी प्रखंड मुख्यालय के नाथपुर प्राथमिक स्कूल में बड़ा हादसा हो गया। झंडोत्तोलन के दौरान लोहे की पाइप बिजली के तार पर गिर जाने से वहां खड़े चार बच्‍चे करंट लगने से झुलस गए। इसके बाद वहां चीख-पुकार मच गई। आनन-फानन में चारों बच्चों को सदर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान एक बच्चे की मौत हो गई। तीन अन्‍य का इलाज चल रहा है। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर दिया। एसडीओ तथा एसडीपीओ के आश्वासन पर लोगों ने जाम हटा लिया। एसडीओ ने हाई वोल्टेज तार वहां से हटाने तथा मृतक के स्वजन को एक सप्ताह में मुआवजा राशि देने का आश्वासन दिया है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

नाथपुर प्राथमिक विद्यालय में गणतंत्र दिवस पर झंडोत्तोलन के लिए लोहे की पाइप लगाई गई थी। काफी संख्या में बच्चे कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। झंडा फहराने के दौरान पाइप अचानक बगल से गुजर रहे 11 हजार वोल्ट के बिजली के तार पर गिर गया। पाइप में करंट दौड़ गई। उसमें शुभम सट गया। उसे बचाने का प्रयास करने में ग्रामीण सुरेमन राम के 35 वर्षीय पुत्र परमेश्वर राम तथा विद्यालय के ही दो छात्र स्थानीय निवासी सदन राम के 10 वर्षीय पुत्र कृष्णा कुमार तथा लालजी के 10 वर्षीय पुत्र इंद्रजीत कुमार झुलस गए। शुभम ने वहीं दम तोड़ दिया। घायलों को स्थानीय ग्रामीणों की मदद से आनन-फानन में बक्सर सदर अस्पताल ले जाया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर दिया है। मौके पर पहुंचे पुलिस व अधिकारी लोगों को समझाने में जुटे हैं। लोग इसके लिए बिजली विभाग को जिम्‍मेदार ठहरा रहे हैं।

घटना की सूचना मिलते ही पूर्व परिवहन मंत्री सह जदयू के जिलाध्यक्ष संतोष कुमार निराला तथा राजपुर विधायक विश्वनाथ राम सदर अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने घायलों का हालचाल लिया। राजपुर विधायक विश्वनाथ राम ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से यह बिजली कंपनी की बड़ी लापरवाही है कि विद्यालय के ऊपर से हाईटेंशन का तार गुजारा जा रहा है। दूसरी तरफ पूर्व परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला ने कहा कि यह घटना बेहद दुखद है तथा प्रशासन के द्वारा परिजनों को जो भी सहायता हो सके वह उपलब्ध कराई जाएगी।