सिवान में दूसरे दिन कदाचार के आरोप में दो परीक्षार्थी निष्कासित

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अंतर्गत मैट्रिक की परीक्षा दूसरे दिन गुरुवार को भी जिले के 44 केंद्रों पर जारी रहा। परीक्षा के दूसरे दिन दूसरी पाली की परीक्षा से कदाचार के आरोप में दो परीक्षार्थियों को परीक्षा से निष्कासित कर दिया गया। परीक्षा केंद्रों पर शारीरिक दूरी के नियमों की खुलकर धज्जियां उड़ी। कई परीक्षा केंद्रों पर थर्मल मशीन से जांच की भी व्यवस्था नहीं थी। जिला शिक्षा पदाधिकारी मोतिउर रहमान ने बताया कि दूसरी पाली की परीक्षा में महावीरी सरस्वती विद्या मंदिर बरहन गोपाल से एक तथा शहर के दाउद मेमोरियल कन्या उच्च विद्यालय से एक छात्र को कदाचार करने के आरोप में परीक्षा से निष्कासित किया गया है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनों पालियों की परीक्षा में जहां 69 हजार 420 परीक्षार्थियों को परीक्षा में शामिल होना था, इसमें 68 हजार 339 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। जबकि 1081 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। दूसरे दिन गणित विषय की परीक्षा ली गई। परीक्षा के दौरान जिला मुख्यालय में सदर एसडीओ रामबाबू बैठा, एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय तथा महाराजगंज अनुमंडल मुख्यालय में एसडीओ रामबाबू कुमार व एसडीपीओ पोलस्त कुमार सभी केंद्रों पर पहुंचकर स्थिति की जानकारी ले रहे थे। पहली पाली की परीक्षा सुबह 9:30 बजे से शुरू होकर दोपहर 12:15 बजे तक चली।

वहीं दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 1:45 बजे से शाम 4:30 बजे तक ली गई। परीक्षा केंद्र के अंदर वीक्षकों को छोड़कर किसी भी व्यक्ति को जाने की अनुमति नहीं थी। परीक्षा को शांतिपूर्वक व कदाचार मुक्त संपन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में पुरुष व महिला पुलिस बल की तैनाती की गई थी।

1081 परीक्षार्थी परीक्षा में रहे अनुपस्थित

जिले के सभी 44 परीक्षा केंद्रों पर पहली पाली की परीक्षा में जहां 34 हजार 896 परीक्षार्थियों को परीक्षा में शामिल होना था। वहीं 34 हजार 380 परीक्षार्थी उपस्थित रहे। जबकि 516 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। वहीं दूसरी पाली की परीक्षा में 34 हजार 524 में 33 हजार 959 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए, जबकि 565 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। दूसरी पाली की परीक्षा से दो परीक्षार्थियों को नकल करते पकड़कर परीक्षा से निष्कासित कर दिया गया।