अमरूद के पेड़ से लटका मिला वृद्धा का शव, सनसनी

0
shav

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के भेड़वनिया गांव में सोमवार की सुबह एक वृद्धा का शव अमरुद के पेड़ पर लटका देख लोगों में सनसनी फैल गई। देखते ही देखते काफी संख्या में लोगों की भीड़ घटना स्थल पर उमड़ गई। स्थानीय चौकीदार के सूचना पर थानाध्यक्ष राकेश मोहन दलबल के साथ घटना स्थल पहुंचे और पेड़ पर फंदा से लटके वृद्धा के शव को उतरावा कर कब्जे में लेते हुए सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका की भेड़वनिया गांव के राजेंद्र सिंह की विधवा गिरजा कुंवर (75) थी। इस घटना की जांच पुलिस ने शुरू करते हुए उसके परिजनों व पट्टीदारों से पूछताछ की है।वहीं जानकारी के अनुसार मृतका व उसके पट्टीदारों के बीच कुछ विवाद भी चल रहा था। जिसकी जांच पुलिस गहनता से कर रही है। इधर गांव के लोग जितने मुंह उतनी तरह की बातें कर रहे हैं। कुछ इसे अपराधियों द्वारा हत्या कर शव को लटकाने की बात कह रहे थे तो कुछ आत्महत्या । तरह तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म था। घटना के संदर्भ में थानाध्यक्ष ने बताया कि भेड़वनिया गांव के राजेंद्र सिंह की विधवा गिरजा कुंवर (75) का शव उसके घर की बाहर एक अमरुद के पेड़ पर लटका पाया गया। उन्होंने बताया कि घटना के समय महिला गिरजा कुंवर एवं उनका एक 55 वर्षीय मानसिक रूप से दिव्यांग पुत्र नरसिंह सिंह घर में रहते थे। परिवार के अन्य सभी सदस्य दहेज हत्या के एक मामले में विगत एक माह से फरार चल रहे हैं। ऐसे में पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि वृद्धा की हत्या हुई है या आत्महत्या। इस स्थिति में पुलिस प्रथम दृष्टया इसे आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या मान रही है। अब प्रश्न यह उठता है कि इस बूढ़ी महिला को फांसी पर लटका किसने और क्यों हत्या की,पुलिस बिंदुवार जांच में जुटी हुई है। थानाध्यक्ष ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चल सकेगा कि महिला की मौत कैसे हुई है। ग्रामीणों के अनुसार भी उक्त महिला अपने मंद बुद्धि के पुत्र नरसिंह सिंह के साथ घर में रहती थी। परिवार के अन्य सदस्य छोटे पुत्र सुदर्शन सिंह, उनकी पत्नी दीपावली देवी एवं उनका पुत्र विकास कुमार दहेज हत्या के मामले का आरोपित है। एक माह पूर्व विकास की पत्नी की हत्या करने की प्राथमिकी विकास के ससुर महम्मदा निवासी सुदामा सिंह ने कराई थी। उसी समय से उक्त सभी नामजद आरोपित फरार चल रहे हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal