दो लड़कियों ने किया एक-दूसरे से प्यार, परिजन बने दीवार तो दिल्ली से भागकर पहुंचीं पटना, कहा- सरकार ने हमें हक दिया है

0

पटनाः राजधानी पटना के महिला थाने में गुरुवार को दो युवतियां जब शादी करने के लिए पहुंचीं तो हंगामा मच गया. दोनों युवतियां दिल्ली से भाग कर पटना आईं. यहां आने के बाद वे दोनों महिला थाने पहुंचीं लेकिन यहां मामला दर्ज नहीं हो सका. इसके बाद वे दोनों एसएसपी आवास पहुंच गईं और यहां उनसे मिलने की गुहार लगाने लगीं. उनका कहना था कि दोनों साथ रहना चाहती हैं लेकिन परिजन तैयार नहीं हैं.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

पाटलिपुत्र इलाके की रहने वाली युवती ने कहा कि उनके परिजनों को जब दोनों के रिश्ते के बारे में पता चला तो ने उन्होंने उसके अपहरण का एक मामला पाटलिपुत्र थाने में दर्ज कराया. इसके बाद दोनों लड़कियां पटना महिला थाने पहुंचीं. उन्होंने बताया कि एक साजिश के तहत उन्हें फंसाया जा रहा है. कहा कि परिवार वाले हम दोनों के रिश्ते को स्वीकार नहीं कर रहे. यह भी कहा कि उनकी जान को खतरा है. वे 18 प्लस हैं और बालिग हैं. ऐसे में दोनों एक साथ रह सकती हैं. सरकार ने हमें यह छूट दी है.

इस दौरान दोनों लड़कियों ने कहा कि वे अपनी मर्जी के साथ रहना चाहती हैं. दूसरी लड़की बिहार के सहरसा की रहने वाली है. वर्तमान में उसका परिवार पटना के इंद्रपुरी में रहता है. कहा कि उनके रिश्ते के बारे में जानकारी होने के बाद परिजनों ने मोबाइल छीन लिया. घर से बाहर निकलना बंद हो गया था. इसके बाद एक दिन दोनों ने एक साथ रहने का फैसला किया. इसके बाद फिल्म देखने के बहाने दोनों एक साथ आ गईं और साथ रहने का फैसला कर लिया.

पुलिस को सुनाई पांच साल की लव स्टोरी

इधर, पटना में गश्ती पुलिस ने इन दोनों के मामले पर संज्ञान लेने का भरोसा देकर उन्हें स्थानीय थाना पाटलिपुत्र ले गई. यहां दोनों ने पुलिस को बताया कि दोनों के बीच पांच साल से प्यार है. वे लोग पटना से भागकर हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, रांची और फिर रांची से रेल के जरिए दिल्ली चली गईं. गुरुवार को वह एक इंटरव्यू के सिलसिले में दोनों पटना आईं. पाटलिपुत्र थानेदार एसके शाही ने बताया कि जिस लड़की के परिजन ने अपहरण का मामला दर्ज करवाया है उनका बयान दर्ज करवाने के बाद इस मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी.