16 जनवरी से शुरू होगा कोविड-19 का टीकाकरण, पूरी करें तैयारी: जिलाधिकारी

0
  • कोविड टीकाकरण को लेकर डीएम ने की समीक्षा बैठक
  • प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका
  • आईएलएआर के लिए स्थल का चयन करें प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी
  • नियमित टीका से अलग रखा जायेगा कोविड का टीका

छपरा: सारण समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे की अध्यक्षता में कोविड-19 टीकाकरण को लेकर जिलास्तरीय टास्क फोर्स की बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि 16 जनवरी से प्रथम चरण का टीकाकरण शुरू होगा। इसके लिए सभी जरूरी तैयारियों को ससमय पूरा कर लिया जाये। टीकाकरण के सफल क्रियान्वयन को लेकर कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाये। जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जायेगा। सभी कर्मियों का डेटा कोविन पोर्टल पर अपलोड करना सुनिश्चित किया जाये। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में वैक्सीन के रख-रखाव के लिए 16 आईसलाइंड रिफ्रिजरेटर आया है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

covid ko le baithak

जिसको पीएचसी में इंस्टाल करना है, उसके लिए अलग स्थल का चयन करें एवं अन्य आवश्यक तैयारियां पूरी करें। जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि इसके लिए माइक्रोप्लान तैयार करना आवश्यक है। टीकाकरण टीम में पांच लोगों शामिल रहेंगे। जिसमें एक आईटी एक्सपर्ट यानि कंप्यूटर ऑपरेटर का रहना जरूरी है। इसके लिए जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायत में कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर को टीकाकरण कार्य में लगाया जायेगा। जिला में कोविड टीका के रख-रखाव के कोल्ड चेन रूम को दुरूस्त कर लिया जाये। डीएम ने बताया कि जिले में क्षेत्रीय कोल्ड चेन स्टोरेज का निर्माण किया जा रहा है। उसके लिए प्लेटफार्म बना लिया गया है। यहां पर 9000 लीटर क्षमता वाला वाल्क-इन कूलर की स्थापना की जायेगी। जिसमें सिवान व गोपालगंज जिले का भी वैक्सीन रखा जायेगा।

हर प्रखंड में करना है ड्राई रन

जिलाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण शुरू होने से पहले प्रत्येक प्रखंडों में कोविड-19 टीकाकरण का ड्राई रन करना सुनिश्चित करें। ताकि ड्राई रन के माध्यम से यह आंकलन किया जा सके कि तैयारी पूरी हुई है या नहीं। इसके लिए सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों व स्वास्थ्य प्रबंधकों को निर्देश दिया है। इसके पहल भी जिले में तीन जगहों पर सफल ड्राई रन का आयोजन किया जा चुका है।

16 हजार अधिक कर्मियों लगेगा टीका

जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि जिले में प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जायेगा। इसके लिए कोविन पोर्टल कर्मियों की सूची अपलोड की गयी है। प्रथम चरण में टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग के 7399, आईसीडीएस के 7450 व निजी स्वास्थ्य संस्थानों के 1823 कर्मियों का डेटा कोविन पोर्टल पर अपलोड कर दिया गया है। जहां भी कर्मियों की सूची बाकी है उसे ससमय पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश दिया है।

हर वर्ग के कर्मियों को लगाये टीका

जिलाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण के दौरान ऐसी सूची बनाये जिसमे हर वर्ग के कर्मी को शामिल करें। इसमें सभी वर्ग के कर्मियों को शामिल करना आवश्यक है। ऐसा नहीं हो कि सिर्फ चिकित्सक को ही टिकाकरण करें, इसमें डॉक्टर, नर्स, सफाई कर्मी, आशा कार्यकर्ता, एम्बुलेन्स चालक, आंगनबाड़ी सेविका का टिकाकरण करें। जिलाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण केंद्र पर एईएफआई से निपटने की पूरी व्यवस्था रखें। टीकाकरण के बाद भी कोविड अनुरूप नियमों का पालन करना आवश्यक है। 28 दिन बाद कोविड टीका का दूसरा डोज दिया जायेगा। दूसरा डोज के 6 सप्ताह बाद एंटीबॉडी विकसित होगा।

आईसोलेशन सेंटर नहीं है एक भी कोरोना के मरीज

जिलाधिकारी के समीक्षा के दौरान सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने बताया कि जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 7234 है। वर्तमान समय में 168 एक्टिव मरीज है। आईसोलेशन सेंटर में एक भी मरीज भर्ती नहीं है। सभी होम आईसोलेशन में है। जिनका रेगूलर फॉलोअप किया जा रहा है। जरूरी दवाओं की कीट भी उपलब्ध करायी जा रही है। जिले का कुल पॉजिटिवीटी रेट 1.1 प्रतिशत है। जिलाधिकारी ने सभी पदाधिकारी को लक्ष्य के अनुरूप कोरोना का जांच करने का निर्देश दिया। बैठक में उपविकास आयुक्त, अपर समहर्ता, सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा, डीआईओ डॉ. अजय कुमार, डीपीएम अरविन्द कुमार, डीएमओ डॉ. दिलीप कुमार सिंह, एसएमओ डॉ. रंजितेश कुमार, डीपीओ आईसीडीएस बंदना पांडेय, एसएमसी आरती त्रिपाठी समेत सभी सीडीपीओ, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, स्वास्थ्य प्रबंधक शामिल थे।