राहुल हत्याकांड में पीड़ित मां ने दी रोते हुए गवाही

0
court

अपराधियों द्वारा गोली मारकर की गई थी पिता की भी हत्या

परवेज अख्तर/सिवान:- जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोज शंकर की अदालत में 13 वर्षीय राहुल कुमार की हत्या के मामले में मां संगीता देवी ने रोते-बिलखते अपनी गवाही दी है. गवाह की हाजिरी अभियोजन द्वारा दी गई थी. जिसकी जिरह अधिवक्ता अरुण कुमार सिन्हा ने पूरा किया. घटना की पूरी जानकारी देते हुए संगीता देवी ने अपनी गवाही के दौरान कहा कि मेरे पुत्र राहुल कुमार उम्र 13 वर्ष की हत्या अपराधियों ने 5,000,000 की फिरौती के लिए बेरहमी से चाकू मारकर कर दिया था. जिसके शव को पुलिस ने महुआरी से बभनौली जाने वाले कच्चे रास्ता के बगल में गेहूं के खेत से बरामद किया था. उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा है कि 4 अप्रैल 2019 को खेलने के लिए जीवी नगर थाना के पिपरा निवासी स्वर्गीय वीरेंद्र सिंह का पुत्र विकी कुमार उर्फ विकास कुमार जो वर्तमान में पकड़ी बंगाली में एक किराए के मकान में रहता था, अपने बाइक पर बिठाकर राहुल को ले गया था. रात्रि के 8 बजे तक जब लड़का वापस नहीं आया तो मोबाइल से 5,000,000 की फिरौती की मांग अपराधियों ने की थी. इसकी सूचना मैंने पुलिस को दी थी. तब पुलिस ने छानबीन कर मेरे पुत्र का शव को गेहूं के खेत से बरामद किया था. इस मामले में पकड़ी बंगाली निवासी जितेंद्र सिंह का पुत्र अभिषेक कुमार, योगेंद्र प्रसाद का पुत्र पप्पू कुमार सिंह व फतेहपुर पाल नगर निवासी दीपक सिंह का पुत्र अभिनव कुमार, इसके अलावा चार से पांच की संख्या में अज्ञात अपराधियों ने साजिश के तहत हत्या की थी. पुलिस ने विकी कुमार के घर से खून लगा चाकू व अन्य सामान बरामद किया था. इस मामले में अभिषेक का विचारण किशोर न्यायालय बोर्ड में चल रहा है.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here