मृतक सद्दाम हुसैन का वीडियो फुटेज वायरल, सच्चाई के तह तक जाने के लिए सिवान एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा सजग !

0
  • हत्या कांड को लेकर नाराज लोगों ने बड़हरिया सीवान मुख्यमार्ग को तीन घंटे तक जाम कर किया था प्रदर्शन
  • आयोजित ऑर्केस्ट्रा में पिस्टल लेकर नर्तकी के साथ मौज करते दिख रहा है मृतक सद्दाम
  • प्राप्त वायरल वीडियो फुटेज के जांच में जुटी पुलिस

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिवान जिले के जी.बी.नगर थाना क्षेत्र के पिपरा गांव के चंवर से सोमवार को सराय ओपी तथा जी.बी.नगर थाना पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से की गई अपहृत सद्दाम हुसैन का शव बरामदगी मामले में अचानक मंगलवार की अलसुबह पुलिस जगत में एक नया मोड़ आ गया है।सोशल मीडिया पर एक वीडियो फुटेज खूब वायरल होने के बाद सिवान के तेजतर्रार एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा के दिशा निर्देश के आलोक में पुलिस ने अपनी अनुसंधान को और तेज कर दी है।उधर एसपी श्री सिन्हा के दिशा निर्देश के आलोक सराय ओपी में दर्ज कांड के अनुसंधानकर्ता अब इस हत्याकांड में दो बिंदुओं पर गहराई पूर्वक अनुसंधान शुरू कर दिए हैं।जबकि मामले का पटाक्षेप करने के लिए पुलिस तकनीकी सेल का भी सहारा ले रही है।पुलिस का दावा है कि जल्द से जल्द इस मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा।यहां बताते चले कि मंगलवार की अलसुबह सोशल मीडिया पर सराय ओपी थाना क्षेत्र के उखई गांव में आई एक तिलक समारोह में आयोजित ऑर्केस्टा संचालन के दौरान मृतक सद्दाम हुसैन अपने हाथों में पिस्टल लहराते हुए नर्तकी के साथ मौज मस्ती करते दिख रहा है।यह वीडियो अचानक मंगलवार की अलसुबह सोशल मीडिया पर जैसे हीं वायरल हुई की इसी बीच उपरोक्त वीडियो फुटेज का क्लिप सिवान के तेजतर्रार एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा के हाथ लगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

जिस आधार पर पुलिस ने इस हत्याकांड में दो पहलुओं पर अपनी अनुसंधान तेज कर दी है।पुलिस का कहना है कि कहीं हो सकता है कि आयोजित ऑर्केस्टा संचालन के दौरान उत्पन्न हुए विवाद में सद्दाम हुसैन की हत्या तो नहीं कर दी गई है !इस मसले के तह तक जाने के लिए पुलिस आयोजित ऑर्केस्टा संचालक समेत अन्य नर्तकयों के बारे में पता लगाने में जुटी हुई है ताकि जल्द से जल्द घटना का पटाक्षेप हो सके। यहां बताते चले कि इस मामले में मृत युवक के पिता मोहम्मद सलीम अंसारी ने सराय ओपी थाना क्षेत्र के उखई पंचायत के नवनिर्वाचित मुखिया जानकी देवी के पुत्र चेतन कुमार समेत अन्य को आरोपित किया है।उसने अपने आवेदन में किस बात का भी उल्लेख किया है कि  मुखिया पुत्र द्वारा सोची समझी साजिश के तहत शातिर अपराधियों से मिलकर मेरे पुत्र की निर्मम तरीके से हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए के जी.बी नगर थाना क्षेत्र के पिपरा गांव के चंवर स्थित चिमनी के समीप फेंक दिया गया था।

mritak sadam

उधर युवक का शव बरामद होने की सूचना पर इलाके में सनसनी फैल गयी थी।वहीं स्थानीय सराय ओपी पुलिस के प्रति लोगों में काफी रोष भी था।मृत युवक की पहचान सराय ओपी थाने के बिंदुसार बुजुर्ग निवासी मोहम्मद सलीम अंसारी के पुत्र सद्दाम हुसैन के रूप में की गयी थी।घटना की सूचना मिलते हीं परिजनों में कोहराम भी मच गया था।परिजनों की चीख पुकार से पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ था।यहां बताते चले कि सराय ओपी थाना क्षेत्र के बिंदुसार बुजुर्ग निवासी मोहम्मद सलीम अंसारी का पुत्र सद्दाम अंसारी को बीते 21 जनवरी 2022 को पंचायत के हीं प्रीतम कुमार उर्फ गुड्डू सिंह के घर आयोजित तिलक समारोह में नेवता देकर धोखे से बूलाया गया था।लेकिन तिलक समारोह में सद्दाम हुसैन शरीक होने के बावजूद वह देर रात तक घर अपने घर वापस नहीं लौटा तो परिजनों में काफी बेचैनी बढ़ गई थी।

परिजनों के काफी खोजबीन के बाद उसका कहीं सुराग नहीं लगा। इस घटना को लेकर सराय ओपी थाने में लापता सद्दाम हुसैन के पिता मोहम्मद सलीम अंसारी ने एक लिखित आवेदन देकर अपने लापता पुत्र की बरामदगी की गुहार लगाई थी।अभी इस मामले में पुलिस अपनी अनुसंधान कर हीं रही थी कि इसी बीच सोमवार को सिवान जिले के जी.बी. नगर थाना क्षेत्र के पिपरा गांव स्थित चंवर से उसकी लाश को सराय ओपी तथा जी.बी.नगर थाने की पुलिस ने संयुक्त रूप से मौके पर पहुंचकर शव को बरामद कर लिया था।शव बरामदगी के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए सिवान बड़हरिया मुख्य मार्ग को घंटों अवरुद्ध कर दिया था।जिससे गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई थी।बाद में घटना की सूचना जैसे हीं सिवान के तेज तर्रार एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा को लगी तो एसपी श्री सिन्हा के दिशा निर्देश के आलोक में सिवान सदर एसडीपीओ श्री जितेंद्र पांडे,स दर एसडीएम श्री राम बाबू बैठा समेत आसपास के कई थाना की के पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंचकर आक्रोशित परिजन तथा ग्रामीणों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया था।

आक्रोशित परिजन तथा ग्रामीण रोड के बीचो बीच पर आगजनी कर आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हुए थे। तथा शव का पोस्टमार्टम करने से इंकार कर रहे थे। मृतक सद्दाम हुसैन के पिता मो. सलीम अंसारी ने इस मामले में प्रमोद कुमार, प्रीतम कुमार उर्फ गुड्डू सिंह, उखई मुखिया पुत्र चेतन कुमार को आरोपित किया है। लेकिन पुलिस जगत के आला पुलिस पदाधिकारी के आश्वासन के घंटों बाद लगी जाम को हटाया गया। बाद में पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू की थी। बहरहाल मामला चाहे जो हो मंगलवार की अल सुबह मृतक सद्दाम का एक वीडियो फुटेज क्लिप वायरल होते हीं पुलिस महकमे में खलबली मच गई है तथा इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सिवान के तेजतर्रार एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा ने स्थानीय पुलिस को कई आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए घटना का निष्ठा पूर्वक पटाक्षेप करने की बात कही।इस संदर्भ में सराय ओपी प्रभारी श्री तनवीर आलम ने कहा कि सद्दाम हत्याकांड को लेकर अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट हाथ नहीं लगी है ताकि जिससे पता लग सके कि आखिर अपराधियों द्वारा उसकी हत्या किस तरीके से की गई है। फिलहाल इस मामले में अनुसंधान जारी रखते हुए घटना के हरेक पहलुओं पर पारदर्शिता पूर्वक अनुसंधान जारी है।आगे की कार्रवाई वरीय पुलिस पदाधिकारी के दिशा निर्देश के आलोक में की जाएगी। घटना में शामिल लोग किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे, दर्ज कांड के सभी आरोपी घर छोड़कर फरार हैं।

48 घंटे बाद भी सदमे से नहीं उबर रहे हैं सद्दाम के परिजन

लापता सद्दाम हुसैन के शव बरामदगी के 48 घंटे बाद भी उसके परिजन सदमे से नहीं उबर पा रहे हैं। अपने लाडले के गम में उसके अधेड़ पिता मोहम्मद सलीम अंसारी के रोते रोते उसके रिमझिम आंखों के आंसू हीं सूख गए हैं, बस मोहम्मद सलीम अंसारी, यूं कह कह कर बेसुध हो जा रहे हैं, कि मुझे क्या पता कि मेरा नौजवान लाडला मुझे ठुकरा कर जिंदगी के उस दहलीज पर ले जाकर खड़ा कर देगा कि जहां मेरे रिमझिम आंखों के आंसू के कतरे हीं सूख जाएंगे।सलीम दूसरी ओर बस यूं कहते जा रहा है कि मैंने कभी यह न सोचा था कि मेरा नौजवान लाडले का जनाजा इस उम्र में मेरे कंधे पर होगा। मृतक के पिता सलीम के मुख से निकल रही है ह्रदय विदारक आवाज सुनकर उपस्थित लोग भी अपनी अपनी आंखों के आंसू को नहीं रोक पा रहे हैं। उधर सद्दाम की हुई हत्या कांड को लेकर पूरे परिवार में चीख-पुकार मची हुई है सद्दाम का गम परिजनों पर ऐसा छाया हुआ है कि उसके आंगन से निकलने रही चूल्हे की चिंगारी भी बुझ गई है। उधर अब भी परिजनों के करुण चीत्कार से गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। जबकि सांत्वना देने वालों का भी मृतक सद्दाम के दरवाजे पर अल सुबह से लोगों का तांता लगा हुआ है।

क्या कहते हैं एसपी

एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा ने कहा कि सद्दाम हत्याकांड में पारदर्शिता पूर्वक अनुसंधान को प्रारंभ रखते हुए आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए एक पुलिस टीम का गठन किया गया है। जिसमें जिले के कई तेजतर्रार थानाध्यक्ष तथा एसआईटी टीम को लगाया गया है। जल्द हीं आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया जाएगा तथा प्राप्त वीडियो फुटेज का अवलोकन किया जा रहा है।