जीरादेई में पुलिया निर्माण कार्य को बाधित पर ग्रामीणों ने जताया आक्रोश

0

निर्माण कार्य में गंभीर घोटाले का मुखिया,जेई व ग्राम सेवक पर लगाई आरोप

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के जीरादेई प्रखंड के ठेपहाँ पंचायत के वार्ड नंबर दो में पुलिया निर्माण कार्य में घोर धांधली का आरोप लगाते हुए ग्रामीण व सरपंच ने निर्माण कार्य को बाधित कर जोरदार विरोध जताया है। ग्रामीणों का आरोप है कि पिछले 5 वर्षों से उनके गांव के लोग जलजमाव की विकट स्थिति झेल रहे है। यहां बरसात के दिनों में लोगों को चलना मुश्किल हो जाता है। गांव में 600 बीघा से अधिक भूमि जलजमाव की समस्या की वजह से परती पड़ा हुआ है। गांव के ग्रामीणों ने कई बार विरोध प्रदर्शन किया। कई बार अधिकारियों से मिलकर गांव में जल जमाव की समस्या की स्थिति अवगत कराई थी। जिसके काफी दिनों के बाद गांव के समस्या से निदान पाने के लिए वार्ड नंबर दो में मुखिया के द्वारा पुल निर्माण कार्य कराने का फंड मिला।

ठेपहाँ पंचायत के सरपंच विशाल कुमार सिंह ने लगाया आरोप

ठेपहाँ पंचायत के सरपंच विशाल कुमार सिंह ने सैकड़ों ग्रामीणों के साथ पंचायत के मुखिया कयूम अंसारी पर पुलिया निर्माण कार्य में घोर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने मुखिया के अलावा जेई तथा ग्राम सेवक पर भी मिलीभगत आरोप लगाया है। पंचायत के सरपंच विशाल कुमार का कहना है कि मुखिया से पुलिया निर्माण से संबंधित प्रोजेक्ट रिपोर्ट की मांग की गई तो वह जबरन मारपीट पर उतारू हो गए। इसके बाद आक्रोशित लोगों के साथ मिलकर पुलिया निर्माण कार्य को बाधित कर दिया गया। उन्होंने बताया कि मुखिया के द्वारा जोर जबरदस्ती पुलिया का निर्माण किया जा रहा था। जो मानक रूप के अधीन नहीं है। उन्होंने बताया कि पुलिया निर्माण कार्य में जबरदस्त घोटाला हुआ है।

क्या कहते हैं मुखिया

वहीं इस मामले में पंचायत के मुखिया कयूम अंसारी ने बताया कि मानक रूप से जो भी फंड पास हुआ है। उसी के आधार पर निर्माण कार्य कराया जा रहा है। किसी प्रकार की धांधली नहीं हुई है। कुछ लोग हैं जो उन पर बेबुनियाद इल्जाम लगा रहे हैं।