​बच्चे को अगवा कर ले जा रहे संदिग्ध को ग्रामीणों ने पकड़ा​

0

परवेज अख्तर/ सिवान : गोरेयाकोठी थाना क्षेत्र के मुस्तफाबाद खगनी मदरसा के पास से एक बच्चे को अगवा कर अपनी साइकिल पर बिठा कर ले जा रहे एक व्यक्ति को पास के गांव जलपुरवा के ग्रामीणों ने पकड़ लिया। पकड़ने के बाद उस व्यक्ति से जब बच्चे के रोने के कारणों के बारे में पूछताछ की गई तो उसने बच्चे को अपना पिता बताया लेकिन बच्चे ने उसे पहचानने से इन्कार कर दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने उस व्यक्ति को पकड़ कर पिटाई शुरू कर दी। ग्रामीणों ने उसे एक बिजली के खंभे में बांध कर उसकी पिटाई की। पिटाई की सूचना मिलते ही गोरेयाकोठी के एएसआई आरके कश्यप दलबल के साथ घटनास्थल पहुंचे और बच्चे तथा संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में ले लेकर पूछताछ शुरू कर दी। इधर बच्चे की तलाश में उसके परिजन भी गांव पहुंचे और परिजनों को रोता देख एक बार फिर से ग्रामीण आक्रोशित हो गए। इसके बाद पुलिस ने बच्चे, उसके परिजन और संदिग्ध को किसी तरह से थाने लाया। जहां देर शाम तक संदिग्ध से पूछताछ जारी थी। मामले में बताया जाता है कि मुस्तफाबाद खगनी मदरसा के पास रजा हुसैन का 12 वर्षीय मासू शहीद रजा कुछ बच्चों के साथ खेल रहा था। तभी एक व्यक्ति साइकिल से आया और बच्चे को अपनी बातों में फंसा कर उसे साइकिल पर बिठा कर ले जाने लगा। बच्चे को लेकर वह पास के ही गांव जलपुरवा जैसे ही पहुंचा था बच्चे को रोता देख गांव वालों को शक हुआ और लोगों ने साइकिल सवार को रोक कर पूछताछ शुरू कर दी। इसके बाद साइकिल सवार ने अपना नाम कभी सीता राम तो कभी सीता गिरि बताया और बच्चे को अपना पिता बताया। इसके बाद लोगों ने जब बच्चे से पूछताछ की तो बच्चे ने अपना नाम शहीद रजा बताया। इस पर लोगों को जैसे ही शक हुआ लोगों ने उसकी पिटाई शुरू कर दी। इसके बाद ग्रामीणों ने संदिग्ध को पोल में बांध कर उसकी जमकर पिटाई की। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने संदिग्ध को पोल से खोलकर कब्जे में लेते हुए बच्चे के साथ थाना लाया जहां देर शाम तक पूछताछ जारी थी। मामले में गोरेयाकोठी थाना प्रभारी उदय कुमार ने बताया कि मामला आया है। पूछताछ जारी है।​