कोरोना के खिलाफ जंग: छपरा जंक्शन पर बाहर से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की गयी

0
chhapra
  • सुबह 4 बजे से तैनात थी स्वास्थ्य विभाग की टीम
  • प्रधान सचिव के निर्देश पर किया गया स्क्रीनिंग
  • 300 से अधिक यात्रियों की हुई स्क्रीनिंग

छपरा: विश्व मे फैले नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से लगातार अहम कदम उठाये जा रहें है। रविवार को प्रधान सचिव के निर्देश पर छपरा जंक्शन पर बाहर से आने वाले यात्रियों का थर्मल स्क्रीनिंग किया गया तथा कोरोना वायरस से बचाव के बारे में जागरूक किया गया। सुबह चार बजे से ही स्वास्थ्य विभाग की टीम छपरा जंक्शन पर यात्रियों की स्क्रीनिंग शुरू की गई थी। दो शिफ्ट में यह अभियान चलाया गया। सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने बताया बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस व गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेन से आने वाले 310 से यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई है। किसी भी यात्री में इस कोई लक्षण नहीं पाया गया है। जांच में सभी सामान्य पाए गए है। सिविल सर्जन ने कहा बाहर से घर आने वाले यात्रियों को होम आईसोलेट करने की सलाह दी गयी है। सभी को सतर्क व सजग रहना है। स्वास्थ्य विभाग की टीम में सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा, डीपीएम अरविंद कुमार, डीपीसी रमेश चन्द्र प्रसाद, डॉ रीना सिन्हा, डॉ. अमरेंद्र कुमार सिंह, डॉ रूपेश पांडेय आदि शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

thermal screening

अभी तक सारण जिले में एक भी मामले की पुष्टि नहीं

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सारण जिला स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह सतर्कता बरत रही है। संक्रमण की रोकथाम के लिए सतर्कता ज्यादा जरूरी है। सिविल सर्जन ने बताया कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिले में जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं। इस दिशा में जिला सहित सभी प्रखंडों के स्वास्थ्य कर्मियों को दिशा निर्देश दिया गया है।

क्या है थर्मल स्क्रीनिग

सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने बताया थर्मल स्क्रीनिग गन शरीर का तापमान (टेंप्रेचर) मापने का यंत्र है। एक सामान्य मनुष्य के शरीर का तापमान 92 से 95 डिग्री. रहता है। अगर किसी यात्री के शरीर का तापमान 97 से 100 डिग्री है तो बुखार होने की पुष्टि होती है। इस जांच के दौरान यात्री का 102 या 103 डिग्री. तापमान होने पर उसे बुखार होने का पता चलता है।

corona in chhapra

जागरूकता से ही होगा बचाव

सीएस ने बताया कि कोरोना वायरस के शुरुआती लक्षण साधारण सर्दी बुखार के सामान्य लक्षणों जैसे खांसी, बार-बार छींक आना, सांस फूलना से काफी मिलते जुलते हैं। इसलिए मामूली सर्दी जुकाम होने से भी लोगों में कोरोना होने का अफवाह डर का कारण बन गया है। किंतु कोरोना साधारण सर्दी बुखार या फ्लू से बिल्कुल अलग है।