कोरोना वायरस के खिलाफ जंग: डीएम ने जिला नियंत्रण कक्ष में एक दर्जन पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति

0
health
  • सारण के सभी सीमाओं को किया गया सील
  • 24×7 घँटे कार्य करेगा कंट्रोल रूम

06152-242444 हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर दें जानकारी

विज्ञापन
aliahmad
vigyapann
vig
web designing

छपरा: नोवेल कोरोनावायरस संक्रमण से बचने के जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से कई फैसले लिए जा रहें है। जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने जिला नियंत्रण कक्ष में एक दर्जन पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर दी है। जिला नियंत्रण कक्ष 24×7 घँटे चालू रहेगा। शिफ्टवाइज पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कहा कि जिला सांख्यकी पदाधिकारी आनंद प्रकाश को कंट्रोल रूम का प्रभारी बनाया गया है। डीएम ने निर्देश दिया है कि प्रतिनियुक्त पदाधिकारी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी से समन्वय स्थापित कर विधि व्यवस्था संधारित के लिए आवश्यक दिशा निर्देश प्राप्त करेंगे। नियंत्रण कक्ष में सभी महत्वपूर्ण मोबाइल, टेलीफोन की निर्देशिका और कम्युनिकेशन प्लान संधारित करेंगे। किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में पदाधिकारी को सूचित करेंगे।

इन नम्बरों पर कॉल करें

कोरोनावायरस संबंधित किसी भी तरह की सहायता के लिए जिले में हेल्पलाइन नंबर 06152-242444, जिला आपातकालीन केंद्र का हेल्पलाइन नंबर 06152-245023 जारी किया गया है। इस दौरान कोई भी व्यक्ति इस नंबर कॉल कर जानकारी प्राप्त सकते है या अपनी समस्या भी बता सकते हैं। उन्होंने बताया स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 06152-244812 या सदर अस्पताल के उपाधीक्षक के मोबाइल नंबर 9470003711 पर कॉल कर चिकित्सकीय सहायता ली जा सकती है। किसी सन्दिग्ध मरीज के बारे में जानकारी देने के लिए भी इस हेल्पलाइन नंबर का इस्तेमाल किया जा सकता है।

सभी सीमाओं को किया गया सील

जिलाधिकारी ने बताया कि की लॉक डाउन की स्थिति में 31 मार्च तक सारण के सभी सीमाओं को सील किया जाता है। इस दौरान बिना किस ठोस कारण के घर से निकलने की अनुमति नहीं है। डीएम ने आदेश दिया है कि सभी रेस्टूरेंट में बैठकर खाने पर प्रतिबंध किया जाता है। लेकिन होम डिलेवरी की सुविधा उपलब्ध रहेगी। मालवाहक व आपातकालीन सेवाओं से संबधित एम्बुलेंस व अन्य वाहनों पर रोक नहीं रहेगा।

दिखाना होगा परिचय पत्र

जिलाधिकारी ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों व आवश्यक सेवाओ से संबधित कर्मचारियों को केवल ड्यूटी के दौरान लॉक डाउन से मुक्त रहेंगे। इस दौरान कर्मचारियों को अपने साथ वैध परिचय पत्र रखना होगा और मांगने पर दिखाना अनिवार्य है।

नियमों की अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए मजिस्ट्रेट व पुलिस बल तैनात

जिलाधिकारियों ने कहा कि लॉक डाउन के आदेशों का उल्लंघन करने वालो के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके मजिस्ट्रेट के साथ प्रयाप्त संख्या पुलिस बलों की तैनाती की गई है। प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को आदेश दिया गया है कि वे सभी आदेश का अनुपालन कराना सुनिश्चित करेंगे।