नामांकन के लिए जाते समय जब फफक- फफक रो पड़े रिजवान.

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन के लिए जैसे ही उन्होंने अपने घर की चौखट पार की तो दरवाजे पर उमड़ी भीड़ को देख रिजवान अहमद फफक- फफक रोने लगे। उनकी आंखों से निकलते आंसू के कतरे को देख उपस्थित लोग भी अपनी -अपनी आंसुओं को नहीं रोक पाए। कुछ देर के लिए माहौल गमगीन हो गया। फिर लोगों ने उन्हें दिलासा देते हुए नामांकन के लिए सजी बुलेट बाइक पर सवार कराया और उनके पैतृक गांव सुरहिया से सैकड़ों समर्थकों ने अपने साथ लेकर सीवान के लिए कूच कर गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

rizwan ahmad namankan

हालांकि बीच-बीच में रिजवान अहमद के आंखों से आंसू के कतरा बंद होने का नाम नहीं ले रहा था।वह बड़हरिया से आंसू के कतरे को बहाते- बहाते नामांकन स्थल तक पहुंच गए। यहां बताते चले कि रिजवान अहमद जो जिले के चर्चित कांग्रेस पार्टी के लीडर हैं।और  वे बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र से अपनी उम्मीदवारी पेश कर रहे थे लेकिन महागठबंधन के खाते में यह सीट  राजद को दे दी गई है। इसलिए वे टिकट से वंचित रह गए। बाद में उन्होंने लोगों के आग्रह पर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन गुरुवार को दाखिल किया।