रेड जोन स्टेट से आए मजदूरों को रखा जा रहा प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन सेंटर पर

0
corentiene centre

परवेज अख्तर/गोपालगंज :- देश के तीन रेड जोन स्टेट से आने वाले प्रवासी मजदूरों को प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन सेंटरों में रखा जा रहा है। इसकी जानकारी देते हुए रेफरल अस्पताल भोरे के स्वास्थ्य प्रबंधक कामरान अहसन ने बताया कि दिल्ली ,महाराष्ट्र और गुजरात को रेड जोन स्टेट स्टेट माना जा रहा है।इन राज्यों से आने वाले मजदूरों में संक्रमण की आशंका अधिक है। इसलिए इन राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन सेंटरों में ही रखा जा रहा है। इन सेंटरों के रखरखाव और व्यवस्था की जिम्मेवारी प्रखंड विकास पदाधिकारी के जिम्मे है। जबकि हरियाणा,पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु से आने वाले मजदूरों को पंचायत स्तरीय क्वारंटाइन सेन्टरों में रखा जा रहा है।इसके अलावे दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को ग्राम स्तर पर बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटरों पर रखा जा रहा है। पंचायत स्तरीय और ग्रामीण क्वॉरेंटाइन सेंटरों की देखरेख और व्यवस्था की जिम्मेदारी स्थानीय मुखिया लोगों के जिम्मे में दी गई है

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal