योग दिवस: स्वास्थ्य संस्थानों में चिकित्सकों और कर्मियों ने किया योग

0
  • हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर भी योग शिविर आयोजित
  • योग शारीरिक और मानसिक स्थित को बनाये रखने के लिए बहुत जरूरी

छपरा: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों और हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर योग शिविर का आयोजन किया गया। योग की महत्ता के विषय में लोगों को जागरूक करने का उद्देश्य है कि योग के महत्व के विषय में शहर के साथ-साथ ग्रामीण परिवेश के लोग भी इससे लाभ उठा सकें। योग शिविर में शामिल चिकित्सकों और कर्मियों को खड़े होकर किए जाने वाले योगासनों जैसे – ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन त्रिकोणासन आदि का अभ्यास कराया गया । बैठकर, पेट एवं पीठ के बल लेटकर किए जाने वाले भी कई योगाभ्यास को कराया तथा उसके लाभ के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया । योग शारीरिक और मानसिक स्थिति को बनाये रखने के लिए बहुत जरूरी है। योग स्वस्थ रहने के लिए सभी के लिए बहुत आवश्यक है। ,योग करने से जीवन की गुणवत्ता बरकरार रहती है। योग शिविर में जिले के सभी चिकित्सक , नर्स, आशा कार्यकर्ता और अन्य स्वास्थ्य कर्मी मुख्य रूप से शामिल हुए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

शरीर को निरोग और स्वस्थ रखने के लिए योग जरूरी:

सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने कहा कि आज के आधुनिक दौर में व्यस्तता के बीच शरीर को निरोग और स्वस्थ रखने में योग सभी की मदद करता है। शारीरिक और मानसिक प्रकार की सभी बीमारियों को शरीर से दूर रखने के साथ ही योग सभी के जीवन पर पॉजिटिव प्रभाव छोड़ता है। रोजाना योग करने से शारीरिक और मानसिक ऊर्जा में विकास होने के साथ ही तनाव और डिप्रेशन भी कम होता है।

कोविड काल में बढ़ा योग् का महत्व:

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. चंदेश्वर सिंह ने बताया कि कोविड-19 महामारी एक अभूतपूर्व मानवीय त्रासदी रही है। शारीरिक स्वास्थ्य पर इसके तत्काल प्रभाव के अलावा, कोविड-19 महामारी ने मनोवैज्ञानिक पीड़ा को भी बढ़ा दिया है। जिसमें अवसाद और चिंता भी शामिल है, क्योंकि कई देशों में महामारी से संबंधित प्रतिबंध विभिन्न रूपों में पेश किए गए थे। इसने शारीरिक स्वास्थ्य पहलुओं के अलावा, महामारी के मानसिक स्वास्थ्य आयाम को हल करने की तत्काल आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया है। दुनिया भर के लोगों ने स्वस्थ और तरोताजा रहने और महामारी के दौरान सामाजिक अलगाव और अवसाद से लड़ने के लिए योग को अपनाया। कोविड-19 के रोगियों के मनो-सामाजिक देखभाल और पुनर्वास में योग महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यह उनके डर और चिंता को दूर करने में विशेष रूप से सहायक है।

योगा फॉर ह्यूमैनिटी के थीम पर मनाया गया योग दिवस:

पृथ्वी के साथ सामंजस्य में स्थायी जीवन शैली को बढ़ावा देने के लिए मानवता की सामूहिक खोज में योग एक महत्वपूर्ण साधन हो सकता है। इसी भावना को ध्यान में रखते हुए, इस वर्ष के योग दिवस समारोह का विषय “योग मानवता के लिए” या “योगा फॉर ह्यूमैनिटी” है।