छह साल बाद वापस लौटा लापता युवक

0
yuwak baramad

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के थाना क्षेत्र के इंग्लिश गांव का एक लापता युवक छह वर्ष के बाद घर लौटा तो उसे देख परिजनों की खुशी के ठिकाने नहीं रहे। बेटे के इंतजार में राह देखते मां की आंखें पथरा गई थी, लेकिन उन आंखों मे खुशी के आंसू छलक पड़े। पिता बेटे को ढूंढने के लिए छह वर्षों तक खाक छानता रहा। वापस लौटे युवक ने अपने परिजन को उसे अगवा कर बंधुआ मजदूरी कराई जाने की कहानी सुनाई तो दिल कांप उठे। मैरवा थाना क्षेत्र के इंग्लिश गांव के मदन कोहार का पुत्र साहेब कोहार छह वर्ष पहले केरल से घर वापसी के दौरान ट्रेन से ही गायब हो गया था। मदन कोहार ने न्यायालय में परिवाद के माध्यम से मैरवा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए बताया था कि छपरा के मांझी थाना क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति का ससुराल उनके गांव में है। उन्होंने गरीबी देख कर उनके पुत्र साहब कोहार को नौकरी दिलाने के लिए अपने साथ केरल ले गए। कुछ दिनों तक उनका बेटा फोन पर उन लोगों से बात करता रहा है। बाद में संपर्क कट गया। जो व्यक्ति उनके बेटे को नौकरी दिलाने के लिए केरल ले गया था उसने बताया कि उसे ट्रेन पर घर वापसी के लिए बैठा दिया गया है, लेकिन युवक घर नहीं पहुंचा। उधर 6 वर्षों से तक लापता रहने के बाद घर लौटा युवक साहेब कुमार ने अपने परिजनों को बताया की ट्रेन पर ही नशा खिलाकर उसे किसी ने उसे ट्रेन से उतार लिया था। जब उसे होश आया तो वह खटाल में था। खटाल से बाहर निकलने नहीं दिया जाता था। उसे बंधुआ मजदूरी कराई जाती थी। सिर्फ भोजन दिया जाता था। किसी से मिलने भी नहीं दिया जाता था। मौका पाकर वह भाग कर आया है। हालांकि इस संदर्भ में मैरवा पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है। थानाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह निराला ने कहा की युवक से पूछताछ के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal