चांदपाली गांव में प्रेम-प्रसंग के विवाद में युवक को मारी गोली

0

घायल ने कहा गोली से नही पटाखा से हुआ हूँ घायल

दोषी मेरे नजरों से बचने वाले नहीं : एसपी

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के जीरादेई थाना क्षेत्र के चांदपाली गांव में दो युवकों के आपसी विवाद में एक पक्ष के युवक द्वारा घर में रखे लाइसेंसी राइफल से फायरिंग कर एक युवक को गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। गनीमत यह रही कि गोली युवक के छाती और बाएं हाथ को छूती हुई निकल गई। आनन फानन में घायल को परिजनों ने पास के एक अस्पताल में इलाज कराने के लिए भर्ती कराया लेकिन जैसे ही चिकित्सक को गोली की जानकारी मिली चिकित्सक ने इलाज करने से इन्कार कर दिया। इसके बाद घायल को परिजनों नेग सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। जहां उसका चिकित्सकों ने इलाज किया। इधर सूचना पाकर नगर थाना की पुलिस सदर अस्पताल पहुंची। घायल युवक चांदपाली निवासी रमजान अली उर्फ मुन्ना मियां का पुत्र मो. झुनझुन बताया जाता है। घायल ने पुलिस को दिए अपने दिए फर्द बयान में गांव में आए एक बरात में पटाखा छूटने के दौरान घायल होने की बात कही। मामले में बताया जाता है कि चांदपाली गांव निवासी मो. ईशा मियां के पुत्र मो. बिट्टू एवं रमजान उर्फ़ मुन्ना मियां के पुत्र मो. झुनझुन में किसी बात को लेकर कहा-सुनी हो गई और बात धीरे-धीरे बढ़ती गई और इसी बीच मो. बिट्टू ने अपने घर में रखे लाइसेंसी राइफ़ल से मो. झुनझुन पर फायरिंग कर दी जिससे मो. झुनझुन गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद से गांव में अफरा-तफरी मच गई। घटना को अंजाम देने के बाद मो. बिट्टू मौके से फरार हो गया। बता दें कि घायल और हमलावर पड़ोसी हैं जिसके वजह से ग्रामीण कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। उधर घटना की सूचना गांव के शौकत अली के घर आई बरात में लोगों को लगी तो सभी बेचैन हो गए और एकाएक घटना स्थल पर पहुंचे। इधर गांव के आसपास के क्षेत्र में मामले को दबाने के लिए बरात में फायरिंग के दौरान गोली लगने तथा कुछ के द्वारा पटाखा छूटने के दौरान घायल होने की बात फैला दी गई।

पटाखा या गोली जांच का विषय

इस घटना में जितनी मुंह उतनी तरह की बातें सामने आई हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए एएसपी ने संज्ञान लेते हुए स्वयं घटना स्थल पर पहुंच कर मामले की जांच की। जांच रिपोर्ट को पूरी तरह से गोपनीय रखा गया है। वहीं कुछ लोगों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि मामले को दबाने व लाइसेंसी राइफल की अनुज्ञप्ति रद ना हो इसके लिए पटाखा का रूप दिया गया है। बहरहाल इसकी जांच की जा रही है।
हथियार की होगी जांच तो हो जाएगा खुलासा
जिस लाइसेंसी राइफल से फायरिंग की बात कही जा रही है अगर पुलिस उस हथियार की जांच करती है तो मामले से दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। क्यों कि अगर फायरिंग हुई होगी तो राइफल में बारूद की महक जरूर आएगी।

goli mari

प्रेम प्रसंग की भी बात आई सामने

दो युवकों के बीच हुई विवाद और फायरिंग के मामले में स्थानीय कुछ ग्रामीणों ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग का है।
जिस में दोनों लड़को में मारपीट हुई। लोगों का कहना था कि गांव में बारात आई थी, जिसमें किसी बात को लेकर दोनों लड़के उलझ गए। जिसमें एक लड़के ने दूसरे लड़के पर गोली चला दी। थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि गोली लगने की सूचना मिली है। घायल का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। गोली मारने वाला युवक घर छोड़ कर फरार हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि जिस रायफल से गोली चली है, उस रायफल की सीज कर लाइसेंस निरस्त करने के लिए वरीय अधिकारी को लिखा जाएगा।

कहते हैं अधिकारी कहते हैं एएसपी सदर

मैंने खुद घटनास्थल पर जाकर जाँच की।इस दौरान कई गोपनीय तथ्यों की जानकारी मुझे मिली है।गोपनीय पूर्वक जाँच की जा रही है।लेकिन घायल ने अपने फर्द बयान में गोली लगने की बात से इन्कार किया है। घायल ने पटाखा से जख्मी होने का बयान दिया है। अगर फायरिंग की बात सामने आती है तो हथियार को जब्त कर जांच के लिए भेजा जाएगा। वैसे दोषी किसी भी किम्मत पर मेरे नजरों से बचने वाले नही है। चाहे जो हो।

कांतेश मिश्रा
एएसपी, सिवान

goli mari
घटनास्थल पर जाँच करते एएसपी