चुनाव को लेकर बिहार के 25 IAS अफसर 5 राज्यों में बनाये गये केंद्रीय पर्यवेक्षक….

0

पटना: देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव का बिगुल हज गया है। स्वच्छ और शांतिपूर्ण चुनाव को लेकर चुनाव आयोग तैयारी में जुटा है. बिहार कैडर के 25 आईएएस अफसरों को चुनाव में प्रेक्षक बनाया जाएगा. गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के विधानसभा के आम चुनाव में केंद्रीय पर्यवेक्षकों की बैठक बुलाई गई है. बैठक में बिहार कैडर के 25 आईएएस अफसर शामिल होंगे. इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी आईएएस अफसरों को इसकी जानकारी दी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

सरकार ने बताया है कि चुनाव आयोग की तरफ से 10 जनवरी को पत्र आया है. जिसके तहत 14 जनवरी की सुबह 9 बजे से बैठक आयोजित की गई है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बिहार के कार्यालय से सभी 25 आईएएस अफसर बैठक में भाग लेंगे. जिन आईएएस अफसरों को पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में पर्यवेक्षक बनाया गया है उनमें शामिल हैं- भू अभिलेख निदेशक जय सिंह, माध्यमिक शिक्षा के निदेशक मनोज कुमार, पशुपालन निदेशक विनोद सिंह गुंजियाल।

इसके अलावे उपभोक्ता संरक्षण के निदेशक दिनेश कुमार, पर्यटन विकास निगम के एमडी प्रभाकर, अर्थ एवं सांख्यिकी के निदेशक वैद्यनाथ यादव, निबंधन आईजी बी. कार्तिकेय धनजी, ईख आयुक्त गिरिवर दयाल सिंह, खाद एवं उपभोक्ता विभाग के विशेष सचिव चंद्रशेखर, पंचायती राज विभाग के निदेशक डॉ रंजीत कुमार सिंह, पशुपालन विभाग के विशेष सचिव सुरेंद्र कुमार, भविष्य निधि निदेशालय के निदेशक नीलम चौधरी, सारण नगर निगम के आयुक्त संजय कुमार उपाध्याय, बेतिया के बंदोबस्त पदाधिकारी सुरेश चौधरी, ग्रामीण कार्य विभाग के विशेष सचिव संजय दुबे, आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष सचिव रामचंद्रूडू, राज्य परिवहन आयुक्त सीमा त्रिपाठी, समाज कल्याण के निदेशक राजकुमार, कला संस्कृति के अपर सचिव करुणा कुमारी, वित्त विभाग के अपर सचिव मिथिलेश मिश्र, बिहार विकास मिशन के मुख्य महाप्रबंधक संजय कुमार पंसारी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के निदेशक संजीव कुमार, बिहार शिक्षा परियोजना निदेशक श्रीकांत शास्त्री, पथ निर्माण विभाग के अपर सचिव शैलजा शर्मा और श्रम संसाधन विभाग के श्रम आयुक्त सुश्री रंजीता शामिल हैं.