कुछ घंटों में लालू पर आएगा बड़ा फैसला, ‘जाएंगे जेल या मिलेगी बेल’ पर सभी की निगाहें टिकी

0

पटना: चारा घोटाले के बड़े मामले डोरंडा कोषागार पर मंगलवार को फैसला आएगा। इसके लिए राजद सुप्रीमो लालू यादव रांची पहुंच चुके हैं। इस घोटाले में लालू यादव सहित 99 लोग आरोपी है। इसकी सुनवाई सीबीआई की विशेष अदालत कर रही है, जिसका आखरी दिन मंगलवार को ही है। डोरंडा कोषागार मामले में पुराने केसों का रेफरेंस लेते हुए सुनवाई की जाएगी। ऐसे में उन सभी मामले पर सुनवाई होगी, जिनमें लालू यादव ने सजा पाई हुई है और अभी फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.16.03 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.24.37 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.13.39 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.18.57 PM

चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ की अवैध निकासी (RC 47ए/96) के मामले में आज फैसला आएगा। इस केस में 10 महिलाएं भी आरोपी है। मामले में चार राजनीतिज्ञ, दो वरीय अधिकारी, चार अधिकारी, लेखा कार्यालय के छह, 31 पशुपालन पदाधिकारी स्तर के एवं 53 आपूर्तिकर्ता मुकदमे का सामना कर रहे हैं। अदालत ने सभी आरोपियों को व्यक्तिगत रूप से अदालत में मौजूद रहने का निर्देश दिया है।

बता दें, सुनवाई में उपस्थित रहने के लिए लालू 2 दिन पहले 13 फरवरी को ही रांची पहुंच गए हैं। वहां उनका कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़ों के साथ स्वागत किया था। अभी वह रांची में ही है। चारा घोटाले के चार अन्य मामलों में लालू दोषी करार दिए जा चुके हैं। वह अब तक 6 बार जेल भी जा चुके हैं। अभी दुमका ट्रेजरी मामले में जमानत पर बाहर हैं।

सीबीआई ने 1996 में अलग-अलग कोषागारों से गलत ढंग से अलग-अलग राशियों की निकासी को लेकर 53 मुकदमे दर्ज किए थे। ये रुपयों को संदिग्‍ध रूप से पशुओं और उनके चारे पर खर्च होना बताया गया था। उन 53 मामलों में से यह मामला आरसी 47 (ए)/ 96 सबसे बड़ा जिसमें सर्वाधिक 170 आरोपित शामिल हैं। इस मामले में सर्वाधिक 139 करोड़ रुपए की भारी भरकम राशि की अवैध निकासी की गई थी। मामले में अभियोजन पक्ष के गवाहों की संख्‍या भी सबसे अधिक 585 है।