अंचलाधिकारी पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का मामला दर्ज….महिला पर CO करवा चुके हैं हत्या के प्रयास का केस….8 साल से बना रहा था शारीरिक संबंध….गर्लफ्रेंड ने लगाया आरोप

0

पटना: बख्तियारपुर अंचलाधिकारी रघुवीर प्रसाद पर महिला ने शादी का झांसा देकर यौन शोषण का मामला दर्ज करवाया है. आरोप है कि बेतिया में सीओ के पद पर तैनाती के दौरान सीओ रघुबीर प्रसाद ने मांग में सिंदूर भरा था. जबरन आरोप मढ़ने के लिए खुद से सीओ ने सरकारी गाड़ी में आग लगायी है. महिला पुलिस से शिकायत कर न्याय की गुहार लगायी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

वहीं सीओ रघुबीर प्रसाद ने महिला पर सरकारी गाड़ी में आग लगाकर जान मारने की कोशिश का मामला दर्ज करवाया है. बख्तियारपुर सीओ रघुबीर प्रसाद के बयान पर बख्तियारपुर थाने में मामले दर्ज किये गये हैं. बख्तियारपुर पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार महिला को पुलिस जेल भी भेज दिया।

सीओ की गर्लफ्रेंड बेतिया की है. युवती ने पुलिस को जो लिखित शिकायत दी है उसमें आरोप लगाया है कि रघुवीर प्रसाद जब बेतिया में अंचलाधिकारी थे तभी उनसे उसकी नजदीकियां बन गई थी. इसी दौरान पहले तो सीओ ने झांसा देकर पिता का रिश्ता कायम किया और बाद में नज़दीकियां बढ़ाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया।

युवती का यह भी दावा है कि उसने इस करतूत का विरोध किया, लेकिन सीओ ने वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसे चुप करा दिया. युवती की मानें तो सीओ पिछले 8 साल से शादी का झांसा देकर उसके साथ कथित पति बनकर शारीरिक संबंध बनाता रहा है. यूवती ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी है कि पिछले 15 जनवरी को सीओ रघुवीर प्रसाद ने उसे फोन कर बेतिया से बख्तियारपुर बुलाया और उसके साथ खरीदारी के लिए मॉल गया।

यह पूरा मामला तब सामने आया जब 15 जनवरी को एक खबर आई कि बख्तियारपुर के सीओ की गाड़ी में अचानक आग लग गई. खबर थी कि अंचलाधिकारी बख्तियारपुर के एक मॉल में कोरोना गाइडलाइन का चेकिंग अभियान चला रहे थे. तभी मॉल के बाहर उनकी गाड़ी में आग लग गई. बाद में जब इस घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया तब मामला कुछ और निकला.

वहीं डीएम ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिये हैं. मामले की जांच बख्तियारपुर पुलिस कर रही है. जांच के बाद भी मामले की असलियत का पता चल पाएगा।