सिवान में युवक की चाकू से गोदकर हत्या, बचाने आए दोस्त पर भी किया हमला

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव में अपराधियों ने युवक का मर्डर कर दिया है। बुधवार की रात आधा दर्जन बदमाशों ने एक युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी और उसके शव को नहर में फेंक दिया। वहीं मौके से गुजर रहे एक युवक द्वारा बीच बचाव करने पर उसे भी चाकू मारकर घायल कर दिया। घायल को पुलिस व ग्रामीणों की मदद से इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। मृतक की पहचान जगदीशपुर निवासी सत्येंद्र सिंह के पुत्र सुधांशु कुमार के रूप में हुई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

बचाने आए युवक पर चाकू से हमला

घायल जीबी नगर थाना क्षेत्र के नौतन निवासी अमरनाथ ओझा का पुत्र राजीव कुमार ओझा है। राजीव को चाकू हाथ तथा पीठ में लगी है। बताया जाता है कि जगदीशपुर निवासी सुधांशु कुमार बुधवार की रात करीब नौ बजे गांव के नहर पर बैठा था। तभी करीब आधा दर्जन बदमाश वहां पहुंच और उसके साथ मारपीट करने लगे। इसी दौरान राजीव अपनी बाइक से उसी रास्ते से धनौता गांव अपने रिश्तेदार के यहां जा रहा था। सुधांशु संग मारपीट देख राजीव ने बीच बचाव करने की कोशिश की तभी बदमाशों ने उस पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया। इस दौरान राजीव घायलावस्था से किसी तरह भाग कर धनौता गांव के एक व्यक्ति के दरवाजे पर पहुंच गिर गया।

बचाने आए युवक पर चाकू से हमला

घायल जीबी नगर थाना क्षेत्र के नौतन निवासी अमरनाथ ओझा का पुत्र राजीव कुमार ओझा है। राजीव को चाकू हाथ तथा पीठ में लगी है। बताया जाता है कि जगदीशपुर निवासी सुधांशु कुमार बुधवार की रात करीब नौ बजे गांव के नहर पर बैठा था। तभी करीब आधा दर्जन बदमाश वहां पहुंच और उसके साथ मारपीट करने लगे। इसी दौरान राजीव अपनी बाइक से उसी रास्ते से धनौता गांव अपने रिश्तेदार के यहां जा रहा था। सुधांशु संग मारपीट देख राजीव ने बीच बचाव करने की कोशिश की तभी बदमाशों ने उस पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया। इस दौरान राजीव घायलावस्था से किसी तरह भाग कर धनौता गांव के एक व्यक्ति के दरवाजे पर पहुंच गिर गया।

हत्या कर शव को नहर में फेंका

उसके शोर मचाने पर कुछ लोग वहां पहुंचे और घटना की सूचना महाराजगंज एवं दारौंदा थाने को दी। सूचना मिलते ही महाराजगंज थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल से दो बाइक, तीन-चार डंडा, मोबाइल को जब्त कर सुधांशु की खोजबीन करने लगे। इस दौरान पुलिस की नजर नहर के पानी में उपलाते एक शव पर पड़ी। पुलिस ने शव को पानी से निकलवाया तथा उसकी पहचान सुधांशु कुमार के रूप में की। थानाध्यक्ष ने बताया कि सुधांशु की छाती पर तीन-चार चाकू तथा लाठी-डंडे का निशान पाया गया है। बता दें कि सुधांशु चार भाई व एक बहन में सबसे छोटा था। वह अविवाहित था। उसके पिता सहित पूरा परिवार दूसरे शहर में रहते हैं। वह घर पर अकेला ही रहता था।