…… अनुष्का तेरे जज्बे को सलाम

0
  • घर में रहते हुए ग़ैरों की तरह होती है
  • बेटियाँ धान के पौधों की तरह होती है

    ✍️ परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
    सफलता, कामयाबी या जीत नाम कोई भी हो इन सबका अर्थ एक हीं है।इन्हें हासिल करना बहुत हीं गर्व की बात होती है।सफलता हासिल कर हीं लोग इतिहास रचाते हैं।लेकिन इस कामयाबी का फायदा तब हीं है जब इसकी ख़ुशी मानाने वाले साथ हों।जो हम और आप होते हैं।इस त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान बिहार के शिवहर जिले के कुशहर पंचायत से दिलों को खुशियों से लपेट देने वाला रिजल्ट सामने आया है कि जहां शिवहर जिले के कुशहर पंचायत से एक 21 साल की बेटी अनुष्का कुमारी ने मुखिया पद पर काबिज होकर अपने नाम को तारीख के पन्नों पर कैद किया है,यहां बताते चलें कि बैंगलोर से ग्रेजुएशन कंप्लीट कर अपने पैतृक गांव पहुंची अनुष्का को अचानक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भाग्य आजमा कर आम जनमानस की सेवा करने की मंशा जगी,अचानक जगी मंशा को अनुष्का ने अपने परिवार वालों के बीच इसे शेयर किया,बाद में जब परिवार वालों की सहमति बनी तो अनुष्का ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दंगल में आम जनमानस के भरोसे चुनावी दंगल में कूद पड़ी और चुनाव के दौरान आम जनमानस का इन्हें काफी आशीर्वाद मिलते चला गया और हुआ यूं की अनुष्का को उसके पंचायत के लोगों ने उसके सिर पे जीत का सेहरा बांध डाला,उधर मतगणना के बाद अनुष्का के पक्ष में रिजल्ट आते हीं पंचायत के चारों तरफ के आम जनमानस जो खुशी से झूम उठे,उधर जैसे ही अनुष्का द्वारा निर्वाचित पदाधिकारी से जीत का सर्टिफिकेट हासिल करने के बाद वह मतगणना कक्ष से बाहर निकली तो पंचायत के लोगों ने उसे फूल माला से लादकर भव्य स्वागत किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here