सदर अस्पताल में आशा कार्यकर्ताओं ने सीएस को घेरा, धरने पर रहीं बैठी

0
asha dharna

परवेज अख्तर/सिवान : बिहार जनस्वास्थ्य कर्मचारी संघ के आह्वान पर 12 सूत्री मांगों को लेकर आशा कार्यकर्ताओं का हड़ताल नौवें दिन सोमवार को जारी रहा। इस दौरान आशा कार्यकर्ताओं ने इमरजेंसी सेवा को छोड़कर आउट डोर सेवा बाधित रखी और चिकित्सकों का घेराव कर सरकारी विरोधी नारे लगाए तथा मांगों को शीघ्र मानने की अपील की। आशा कार्यकर्ताओं ने सोमवार की सुबह सदर अस्पताल में पहुंच कर सीएस के कार्यालय का घेराव कर घंटों प्रदर्शन किया और सरकार विरोधी नारेबाजी की। इसके बाद प्रदर्शन कर रही आशा कार्यकर्ता इमरजेंसी के सामने ही धरने पर बैठ गईं और घंटों अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करती रहीं। आशा कार्यकर्ताओं ने मांगें पूरी होने तक हड़ताल पर रहने का अडिग निर्णय लिया। धरने के दौरान सिविल सर्जन कहीं से वहां पहुंचे तो उनकी गाड़ी का घेराव कर प्रदर्शन करने लगीं। इसके बाद सिविल सर्जन किसी तरह अपने कार्यालय कक्ष में प्रवेश किए तो उनके कार्यालय का दरवाजा बाहर से कुछ देर के लिए बंद कर दिया गया और आशा कार्यकर्ता अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन करने लगीं। इसको लेकर अस्पताल में कुछ देर के लिए अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया। इनका कहना था कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होगी उनका आंदोलन जारी रहेगा। अपनी मांगों से संबंधित जमकर नारेबाजी की। प्रभारी मालती राम, सोहिला गुप्ता, आइसा नेता विकास यादव आदि उपस्थित थे। गोरेयाकोठी प्रखंड में प्रखंड अध्यक्ष सारिका देवी और उपाध्यक्ष उर्मिला देवी के नेतृत्व में गोरेयाकोठी अस्पताल, प्रखंड, अंचल कार्यालय का घेराव कर विरोध प्रदर्शन किया गया। इस कारण स्वास्थ्य एवं प्रखंड से जुड़े कामकाज बाधित रहा। इस मौके पर संघ की सचिव राजपति शर्मा, उप सचिव मीना देवी, शीला देवी, प्रियंका देवी, एम खातून, सुनीता देवी, अनीता देवी, कुसुमावती देवी, निभा देवी, शीला देवी, सुषमा सिन्हा, प्रभावती देवी, महिमा देवी, रीना देवी, अनीता देवी, गीता देवी, लक्ष्मीना देवी, गायत्री देवी, मुमताज बानो, रंभा देवी, अंजू देवी, संजू देवी, चंदा देवी समेत सैकड़ों आशा कार्यकर्ता शामिल थे। बड़हरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आशा कार्यकर्ताओं ने प्रभारी चिकित्सक जेपी प्रसाद का घेराव किया और सरकारी विरोधी जमकर नारेबाजी की। इस मौके पर माला देवी, माया देवी, प्रमिला पांडेय सुमन, अनीता, सुनीता, मिलू देवी,ऊर्जा कुंवर, रिज़वाना खातून, नुरेशा खातून, रेनू देवी, अंजू देवी, मीरा देवी, सहिला देवी, रिंकू देवी, प्रेम देवी, निर्मल देवी, बिंदा देवी समेत समस्त आशा कार्यकर्ता शामिल थीं। इसके अलावा बसंतपुर, भगवानपुर, मैरवा, नौतन, पचरुखी समेत अन्य प्रखंडों में आशा कार्यकर्ताओं का हड़ताल जारी रहा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal