बड़हरिया: अलग-अलग हुई सड़क दुर्घटना में किशोर समेत दो की मौत

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के बड़हरिया व दारौंदा थाना क्षेत्र में 24 घंटे में अलग-अलग हुई सड़क दुर्घटना में किशोर समेत दो लोगों की मौत हो गई। घटना के बाद पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक की पहचान बड़हरिया थाना क्षेत्र के हलीम टोला निवासी जहांगीर हुसैन के पुत्र शाहिद हुसैन उर्फ रेहान हुसैन तथा दारौंदा थाना क्षेत्र के जलालपुर निवासी बनारस मांझी के पुत्र दिनेश मांझी के रूप में हुई है। बताया जाता है कि मंगलवार की देर शाम हलीम टोला निवासी शाहिद हुसैन उर्फ रेहान हुसैन अपनी बहन को बाइक से उतार कर ज्ञानी मोड़ स्थित पेट्रोल पंप पर पेट्रोल लेने जा रहे थे तभी बड़हरिया-मीरगंज मुख्य मार्ग पर कैलगढ़-गुलरबग्गा के समीप बड़हरिया की ओर से तेज गति से आ रही बाइक ने उसकी बाइक में टक्कर मार दिया और मौके से फरार हो गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

स्थानीय लोगों की मदद से शाहिद हुसैन उर्फ रेहान को इलाज के लिए बड़हरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां उसकी स्थिति गंभीर होने के कारण चिकित्सक द्वारा सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। सिवान जाने के दौरान रास्ते में ही शाहिद हुसैन उर्फ रेहान की मौत हो गई। शाहिद की मौत के बाद मां शमीमा खातून समेत अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। शाहिद तीन भाइयों में सबसे छोटा था। बड़ा भाई अशफाक हुसैन दंत चिकित्सक है। वहीं दूसरी ओर दारौंदा थाना क्षेत्र के जलालपुर कचहरी के समीप बुधवार की सुबह अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक जलालपुर निवासी बनारस मांझी के पुत्र दिनेश मांझी थे। बताया जाता है कि दिनेश मांझी टहलने के लिए निकले हुए थे। इस दौरान जलालपुर कचहरी के समीप अज्ञात वाहन से धक्का लगने से घायल हो गए।

घटना के बाद चालक वाहन लेकर भागने में सफल रहा। ग्रामीण घायल को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार प्रभाकर ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस घटना को अंजाम देने वाले वाहन चालक की पहचान में जुटी हुई है। वहीं दिनेश मांझी की मौत की सूचना मिलते ही पत्नी मीनता देवी, मां तेतरी देवी, भाई राजेश मांझी, विनेश मांझी, विनोद कुमार मांझी समेत अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढाढ़स बंधा रहे थे। मृतक के एक पुत्र एवं एक पुत्री है। दोनों काफी छोटे-छोटे हैं। आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढाढ़स बंधा रहे थे।