मकान खाली नहीं करने पर बड़हरिया के चिकित्सा पदाधिकारी को पीटा

0
marpit

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के बड़हरिया में सोमवार की सुबह करीब नौ बजे ड्यूटी जाने के क्रम में बड़हरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा पदाधिकारी की पिटाई कुछ लोगों ने कर दी। इस मामले में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. नुरुल हक ने पिता-पुत्र समेत तीन लोगों पर मारपीट करने तथा सरकारी कार्य में बाधा डालने समेत अन्य मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि गोपालगंज जिले के थावे थाना क्षेत्र के जगमलवा निवासी वसी अहमद के पुत्र डॉ. नुरुल हक तरवारा-बड़हिरया मुख्य मार्ग स्थित मोद्दसीर अहमद के मकान में किराए के मकान में रहते हैं और लगभग पांच वर्ष से निजी क्लीनिक चलाते हैं। वे बड़हरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सा पदाधिकारी के पद पर कार्यरत हैं। इस मामले में मकान मालिक द्वारा उन्हें मकान खाली कराने की बात कही जा रही थी। इसी क्रम में जब डॉ. नुरुल हक सोमवार की सुबह करीब नौ बजे अपने डेरा से ड्यूटी करने बड़हिरया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जा रहे थे तभी मकान मालिक नासिर छपरा निवासी मोद्दसीर अहमद, मो. अफजल तथा सफी छपरा निवासी नौशाद अली ने मकान से कुछ ही दूरी पर उन्हें घेर लिया और मकान खाली कराने की बात कही । इस दौरान चिकित्सा प्रभारी एवं मकान मालिक के बीच बकझक हो गई और मकान मालिक द्वारा चिकित्सा प्रभारी की जमकर पिटाई कर दी गई। इस मारपीट में चिकित्सा पदाधिकारी के नाक से खून निकलने लगा वहीं शोर सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और बीच बचाव कर मामले को शांत कराया। इसके बाद चिकित्सक का इलाज कराया गया। वहीं इलाज के बाद चिकित्सक ने थाने में लिखित आवेदन देकर उपरोक्त सभी पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है। इस मामले में घायल चिकित्सा पदाधिकारी ने आरोप लगाया है कि कुछ दिन पूर्व मकान मालिक द्वारा एक षड्यंत्र एवं साजिश के तहत नजायज मजमा लगाकर मेरी बाइक की चोरी करा दी थी और पुन: धमकी दी कि अगर मकान खाली नहीं करोगे तो इसका अंजाम भुगतना होगा। इधर इस मामले में सिविल सर्जन शिवचंद्र झा ने बताया कि यह मामला चिकित्सक और मकान मालिक के बीच विवाद का है। इधर पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]

Loading...