सावधान: फेसबुकिया दोस्तों से रहें होशियार, इसी चक्कर में हरियाणा का कारोबारी बिहार में हो गया किडनैप

0

पटना : अगर आप सोशल मीडिया साइट्स जैसे फेसबुक पर कोई अनजान फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करते हैं तो उससे दोस्ती गांठने से पहले सौ बार सोच लीजिएगा, नहीं तो आप किडनैप भी हो सकते हैं। ठीक यही हुआ है बिहार की राजधानी पटना में। यहां हरियाणा के एक कारोबारी और उसके तीन साथियों को तो उनके फेसबुक फ्रेंड्स ने ही किडनैप कर लिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

हरियाणा का कारोबारी साथियों समेत बिहार में किडनैप : पुलिस ने अपहरण की इस सनसनीखेज वारदात का खुलासा करते हुए कारोबारी को सुरक्षित छुड़ा लिया है। शुक्रवार को पुलिस की कोशिश से रिहाई के बाद हरियाणा के सोनीपत निवासी और ट्रांसपोर्टर सुधीर कुमार ने पूरे मामले का खुलासा किया। सुधीर के मुताबिक वो कुछ दिन पहले कारोबार के सिलसिले में मधुबनी जा रहे थे।

इसी दौरान छपरा में उनका रुकना हुआ और उन्होंने अपने फेसबुक फ्रेंड हरीभूषण और मुन्ना से बात की। आरोप है कि दोनों ने सुधीर का अपहरण कर लिया और उन्हें अपने एक जानकार के घर में रखा। इसके बाद अपहरणकर्ताओं ने एक खेत में ले जाकर घर से एक करोड़ रुपये मंगवाने को कहा। नहीं मंगवाने पर किडनी बेच देने और हत्या तक की धमकी दी गई। लेकिन कारोबारी का फोन उनके पास ही रह गया था, लिहाजा मौका मिलते ही उन्होंने अपने ड्राइवर को फोन कर सबकुछ बता दिया। ड्राइवर ने पुलिस को फोन कर दिया और सर्विलांस के जरिए सुधीर को छुड़ा लिया गया।

दो आरोपी गिरफ्तार : पुलिस ने इस सनसनीखेज अपहरणकांड के दो आरोपियों छपरा के सुभय कुमार और गुड्डू सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि बाकी दो आरोपी विकास कुमार और रमण कुमार भागने में कामयाब हो गए। वहीं पुलिस ने ट्रांसपोर्टर के तीन और अगवा साथियों को छपरा के कोपा पुलिस के मदद से छुड़ा लिया है। इसमें दिल्ली के दीपक कुमार, काला कुमार और पानीपत का निवासी हनी शामिल है। इनकी कार भी बरामद कर ली गयी है। लेकिन कार में रखे तीन लाख 80 हजार रुपये अपहरणकर्ता साथ ले गए। उधर पकड़े गए आरोपी अपहरण की बात से इनकार कर रहे हैं।