बिहार: कोटा से पटना पहुंची महिला के साथ गैंगरेप, दो गिरफ्तार, मोतिहारी जा रही थी महिला

0

पटना में एक बार फिर एक महिला दरिंदगी शिकार बनी। उसके छोटे से बच्चे के सामने अपराधियों ने नशा खिलाकर पहले उसके साथ लूटपाट की और फिर सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़िता के बयान पर फतुहा थाना में इसकी प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि दो अन्य आरोपी अभी भी फरार हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

नशाखुरानी गिरोह ने बनाया हवस का शिकार

पीड़िता राजस्थान के कोटा में अपने पति के साथ रहती है। उसका पैतृक घर मोतिहारी में है। पैतृक घर जाने के लिए वह कोटा से पटना आई थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला कोटा से अपने 4 साल के बच्चे को लेकर मोतिहारी के लिए निकली थी। शनिवार की शाम को पटना स्टेशन पहुंची। स्टेशन के बाहर ऑटो चालक के रूप में नशा खुरानी गिरोह ने उसे अपना शिकार बना लिया। ऑटो में उसके साथ गिरोह के कुछ गुर्गे सवार हो गए और रास्ते में उसे नशा खिलाकर नर्वस कर दिया। अपराधी उसे गौरीचक थाना क्षेत्र के सुडीहा में एक गोदाम में ले गए। वहां 20 हज़ार नगद, मोबाइल और अन्य सामान लूट लिया। गुर्गों ने वहीं सुनसान गोदाम में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। और फिर लाकर उसे फतुहा फोरलेन पर ओवरब्रिज के पास बच्चे के साथ छोड़ दिया। कई घंटों तक महिला वहीं पड़ी रही।

पुलिस को बदहवासी में सड़क किनारे मिली महिला

अगले दिन सुबह पुलिस ने अर्ध बेहोशी की हालत में उसे बरामद किया। थाना पहुंचने के बाद पीड़िता ने पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दी। इस मामले को पहले दबा देने की भरपूर कोशिश की गई। लेकिन फतुहा थाने में प्राथमिकी दर्ज हो जाने के बाद मामला उजागर हुआ। महिला से पूछताछ के आधार पर फतुहा पुलिस में दरियापुर-उसफ़ा निवासी पंकज कुमार और सोतीचक निवासी सोनू उर्फ विमल कुमार नामक दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से पूछताछ के आधार पर दो अन्य आरोपियों की पहचान हुई है जो फरार हैं। पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है। इस मामले में पुलिस के वरीय पुलिस अधिकारी बोलने से बच रहे हैं।