संध्या होते ही जंक्शन पर नहीं चलाई जाती है कोच डिस्प्ले बोर्ड

0
siwan jn picture

ट्रैन आते ही यात्रियों में मची भगदड़, भागने के दौरान दो घायल

परवेज अख्तर/सीवान :-आजकल जंक्शन पर कार्यरत क्रमचारी भूल जा रहे है कि किस प्लेटफार्म पर कौन सी ट्रैन आ रही है. शाम होते ही वे भी बच्चो की तरह अपने कार्यालय में चुप जाते है. बुधवार की देर संध्या सिवान के रास्ते अमृतसर को जाने वाली शहीद एक्सप्रेस की जंक्शन पर आने जे 15 मिंनट पहले एनाउंसमेंट की गयीं .उसके बाद न तो एनाउंसमेंट हुई और नही कोच डिस्प्ले बर्ड ही चलाई गयी. ट्रैन जंक्शन पर आकर खड़ी हो गयी .ट्रैन आने के बाद यात्रियों में बैठने के लिए भगदड़ मच गयी.जिसमे जीरादेई निवासी आशा देवी व गोपालगंज निवासी मुन्ना सिंह गिरकर घायल हो गये. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रात होते ही कभी भी कोच डिस्प्ले बर्ड नही चलती है.वही कभी कभी एनाउंसमेंट भी नही होती है और ट्रेन प्लेटफार्म पर खड़ी हो जाती है.जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है .

विज्ञापन
aliahmad
vig
web designing

ट्रेनों की लेटलतीफी जारी

ट्रेनों की लेटलतीफी और रद होने का सिलसिला जारी हैं. गुरुवार को अप ट्रेनों में 12565 बिहार संपर्क क्रांति 30 मिनट,15027 मौर्या एक्सप्रेस डेढ़ घण्टा,55019 सवारी गाड़ी दो घण्टा,14005 लिच्छवी एक्सप्रेस चार घण्टा तीस मिनट व डाउन ट्रेनों में 55020 सवारी गाड़ी दो घण्टा और 14006 लिच्छवी एक्सप्रेस तीन घण्टा विलंब से सिवान जंक्शन पहुँची.ट्रेनों के लेटलतीफ से ताँत्रियो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा.