विद्यालयों में मनाया गया संविधान दिवस

0
diwash

परवेज अख्तर/सिवान : जिला मुख्यालय समेत विभिन्न प्रखंडों के विद्यालयों में सोमवार को संविधान दिवस मनाया गया। इस मौके पर डॉ. भीमराव आंबेडकर के चित्र पर माल्यार्पण कर नमन किया गया। साथ ही संविधान महत्व पर प्रकाश डाला गया। शहर के केंद्रीय विद्यालय में कार्यवाहक प्राचार्य जालिम प्रसाद की अध्यक्षता में संविधान दिवस मनाया गया। इस मौके पर विद्यार्थियों ने विभिन्न कार्यक्रम प्रस्तुत किया। डॉ. बीआर आंबेडकर के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद कार्यवाहक प्राचार्य जालिम प्रसाद ने कहा कि भारतीय संविधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित एवं व्यापक संविधान है। हमारा संविधान एक वैज्ञानिक संहिता एवं राष्ट्रीय धरोहर है। उन्होंने संविधान की प्रस्तावना पर अपना विचार देते हुए कहा कि यह संविधान की आत्मा एवं सार है। शिक्षक कौशलेंद्र कुमार मिश्रा ने कहा कि भारतीय संविधान की एक महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि यह जितना कठोर है उतना ही लचीला भी है। देश की प्रगति में भारतीय संविधान की भूमिका सराहनीय है। शिक्षक अजीत कुमार भारती ने कहा कि भारतीय संविधान अपनी विशेषताओं खासकर धर्मनिरपेक्षता, लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था एवं नागरिकों को प्रदत्त अधिकारों के कारण विश्व के कुछ सबसे अच्छे संविधन में से एक है। डॉ. उमेश पांडेय ने कहा कि इसमें आवश्यकतानुसार संशोधन किया जा सकता है। कार्यक्रम को राजीव रंजन, अनीता शर्मा, टीएन पाठक, सोनाली वर्मा, तनूजा विश्वास, रीता गुप्ता, सुरेश पासवान, विकास चंद्र मिश्रा, राजू कुमार, राणा अनुपम राज, विकास कुमार ने भी संबोधित किया। इस मौके पर काफी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। वहीं आंदर प्रखंड कार्यालय के सभाकक्ष में बीडीओ नीलम समीर की अध्यक्षता में संविधान दिवस मनाया गया। बीडीओ ने डॉ. भीमराव आंबेडकर के तैल चित्र पर माल्यार्पण कर उनकी जीवनी पर प्रकाश डाला। इस मौके पर गणेश राम, आदित्य कुमार, शिलवंत कुमार, नंदकिशोर, तरुण कुमार, शंभू कुमार, सुजीत कुमार,अरुण कुमार, मंकेश्वर, टुनटुन लाल, सूरज कुमार सहित दर्जनों कर्मचारी उपस्थित थे। महाराजगंज शहर के चेतपुरी में सोमवार को पाठशाला ग्लोबल स्कूल में संविधान दिवस मनाया गया। इस मौके पर छात्र-छात्राओं के साथ क्रांतिकारी योग प्रचारक अंगद महाराज ने संविधान दिवस पर बाबा साहब के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद अंगद महाराज ने कहा कि विद्यार्थियों को इनसे सीख तो जरूर लेनी चाहिए। इस अवसर पर विद्यालय के निदेशक विकास कुमार सिंह,कुंवर सिंह, नवीन सिंह, पम्मी, रिमी कुमारी, शालिनी कुमारी, गुड़िया कुमारी, दिव्या आदि उपस्थित थे। इसके अलावा लकड़ी नबीगंज, बसंतपुर, भगवानपुर हाट,दारौंदा, पचरुखी समेत अन्य प्रखंडों में संविधान दिवस मनाया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads