कोरोना कहर: एनएमसीएच में 24 घंटे में 21 लोगों की हुई मौत, पीएमसीएच में 13 और एम्स में 6 की गई जान

0

पटनाः राजधानी पटना में मंगलवार को चार अस्पतालों में कोरोना से कुल 42 लोगों की मौत हो गई. एनएमसीएच में सबसे ज्यादा लोगों की जान गई है. पीएमसीएच में 13, एम्स में छह, आईजीआईएमएस में दो तो एनएमसीएच में 21 लोगों की कोरोना से मौत हुई है. वहीं, बीते 24 घंटों में सबसे ज्यादा पॉजिटिव मरीजों की संख्या पटना जिले से ही है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

एनएमसीएच में कोरोना मरीजों के लिए 116 बेड खाली

एनएमसीएच द्वारा मंगलवार को जारी की गई लिस्ट के अनुसार अभी यहां कोरोना के मरीजों के लिए 116 बेड खाली हैं. मंगलवार को 48 लोगों को डिस्चार्ज किया गया. जबकि 46 पॉजिटिव लोगों को यहां भर्ती किया गया. कई लोगों की हुई मौत के बाद मरीज के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का भी आरोप लगाया.

इधर, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जांच और टीकाकरण पर भी लगातार जोर दिया जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग ने जो आंकड़े जारी किए उसके अनुसार मंगलवार को 75,643 लोगों को कोरोना वायरस की पहली और दूसरी डोज दी गई है. जबकि 45 से 59 वर्ष तक के बीच के कुल 29,321 लोगों को कोरोना का पहला टीका लगाया गया. वहीं 6,468 लोगों को दूसरी डोज दी गई.

बिहार में अब तक 68,49,176 लोगों का हुआ वैक्सीनेशन

कोरोना की पहली और दूसरी डोज मिलाकर अबतक बिहार में कुल 68,49,176 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है. कोरोना वैक्सीनेशन की संख्या में एक मई से अब और भी तेजी आएगी. क्योंकि एक मई से नई गाइडलाइन के अनुसार 18 वर्ष से 45 तक के लोगों को भी टीका दिया जा सकेगा. इसके लिए पूरी तैयारी की जा रही है.