खौफनाक! कॉल रिसीव नहीं हुई तो घर के अंदर गई पड़ोसन, अंदर के नजारे ने खड़ा किया बड़ा सवाल

0

पटना: बिहार के जहानाबाद जिले में हुई खौफनाक घटना ने राज्‍य में कानून-व्‍यवस्‍था की स्थिति पर एक बार फिर से सवाल खड़े कर दिए हैं। जिला मुख्‍यालय के घने मोहल्‍ले में महिला शिक्षक की हत्‍या और डकैती से आम लोग अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हो गए हैं। इस मामले की तह तक जाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती होगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

मूल रूप से रांची की रहने वाली थीं शिक्षिका

नगर थाना क्षेत्र के इरकी मोहल्ले में सोमवार की शाम शिक्षिका नुजहत फातमा की हत्या कर लुटेरे घर से नकदी समेत लाखों की संपत्ति लेकर फरार हो गए। पाली थाने के अलीनगर की मूल निवासी नुजहत परबीघा थाने के मनवलिया प्राथमिक विद्यालय में प्रभारी प्रधानाध्यापक थीं। वह मूल रूप से रांची की रहने वाली थीं। एक साल पहले यहां घर बनाकर रहना शुरू किया था।

पड़ोस की महिला को सबसे पहले मिली जानकारी

इरकी से ही वह प्रतिदिन विद्यालय जाती थीं। घटना के संबंध में बताया गया है कि पड़ोस की एक महिला बार-बार शिक्षिका के मोबाइल पर फोन कर रही थी। फोन नहीं लगने के कारण वह खुद उससे मिलने उसके घर चली गई। घर में प्रवेश करते ही चिल्लाने लगी। घर का सामान बिखरा था। शिक्षिका के हाथ-पैर बंधे हुए थे। हल्ला सुनकर आसपास के लोग भी पहुंचे। शिक्षिका के शरीर में कोई हलचल नहीं होने से लोगों का शक गहरा हो गया। लोगों की सूचना पर नगर थाने की पुलिस पहुंची तो शिक्षिका को मृत पाया। मौके पर पहुंचे एसडीपीओ अशोक कुमार पांडेय ने घर की बारीकी से निगरानी की।