अपराधियों ने युवक को खिड़की से मारी गोली, मौत

0
goli

शनिवार की मध्य रात्रि अपराधियो ने खिड़की खोलवा कर मारी गोली

एक्स-रे के बिना पोस्टमार्टम होने पर परिजनों ने काटा बवाल

परवेज अख्तर/सीवान :- जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मोलनापुर गांव में शनिवार की मध्यरात्रि अपराधियों ने घर में सोये युवक को खिड़की खोलवा कर गोली मार मौत के घाट उतार दिया. मृतक की पहचान मोलनापुर गांव निवासी शिवजी मांझी का पुत्र संजय मांझी के रूप में की गयी. शव के पोस्टमार्टम के दौरान गोली नहीं मिलने पर परिजनों ने रविवार की सुबह पुनः शव को सदर अस्पताल लाया तथा हंगामा करने लगे. परिजनों का कहना था कि जब गोली बाहर नहीं निकली है तो पोस्टमार्टम में मिलनी चाहिए. इसके बाद परिजनों ने पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर एवं पुलिस पदाधिकारियों को भी फटकार लगाई. रविवार की सुबह शव का एक्स रे किया गया तो बॉडी में गोली दिखी. इसके बाद डॉक्टर ने पुनः पोस्टमार्टम का के बॉडी से गोली को निकाला. इसके बाद परिजन शांत हुए. घटना के संबंध में परिजनों ने बताया कि शनिवार की संध्या मृतक संजय कही गया हुआ था. घर आने के बाद वह खाना खाकर वह अपने कमरे में सो गया. मध्य रात्रि लगभग 12:20 बजे किसी ने संजय को कुछ लोगों ने आवाज दिया. संजय खिड़की खोल जानने की कोशिश किया कि तभी अपराधियों ने सिर व सीने में गोली मार दिया. जिसके बाद वो फरार हो गये. आनन-फानन में परिजनों ने उसे सदर अस्पताल ले गए. जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया. उन्होंने यह भी कहा कि गोली उस समय मारी गयी थी. जब गांव के लोग सोए हुए थे. जिसके बाद पुलिस ने पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया. घटनास्थल से पुलिस ने एक जिंदा गोली तथा एक खोखा बरामद किया है.इधर मौत के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

पत्नी को नहीं थी पति की मौत की जानकारी

इधर सुबह तक मृतक संजय की पत्नी को अपने पति की मौत की जानकारी भी नहीं थी. वह बार-बार आने पति से फोन कर संपर्क करने की कोशिश कर रही थी, लेकिन परिजन उसे ऑपरेशन होने की सांत्वना दी रहे थे. बार-बार कह रहे थे कि ऑपेरशन की तैयारी चल रही है, अभी वो बेहोश है.

कई आपराधिक घटनाएं है दर्ज

इधर मृतक के मौत के बाद क्षेत्रों में कई तफह की लोगों में चर्चाएं हो रही है. लोगों कहना है कि रीटेक का साथ कुछ गलत लोगों से या गलत कारोबार से भी था कही इसी के लिए तो अपराधियों ने होली तो नहीं मारी है. मृतक के खिलाफ भी मुफस्सिल थाने में कई मामलाएं भी दर्ज है.