दारौंदा: विद्यालयों में बच्चों को मिलेगी प्राथमिक चिकित्सा की सुविधा

0

फर्स्ट एड की सामग्री खरीदने को प्रत्येक विद्यालय को मिलेंगे दो-दो हजार रुपये

परवेज अख्तर/सिवान: दारौंदा प्राथमिक तथा माध्यमिक विद्यालयों में बच्चों को चोट लगने या अन्य कोई परेशानी होने पर प्राथमिक चिकित्सा की सुविधा मिलेगी। इसका उपचार अब विद्यालय में ही हो जाएगा। इसके लिए बिहार शिक्षा परियोजना द्वारा सभी विद्यालयों में प्राथमिक उपचार की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए प्रत्येक विद्यालय को दो- दो हजार रुपये एक माह के अंदर प्राथमिक उपचार से संबंधित सामग्री की खरीदारी के लिए दिए जाएंगे। इसके लिए प्रत्येक विद्यालयों पर दो-दो हजार रुपये खर्च होंगे। कुल जिले के 2302 विद्यालयों पर 46 लाख 14 हजार रुपये खर्च होंगे। इस संदर्भ में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक बैजनाथ यादव ने समग्र शिक्षा अभियान तथा डीपीओ को पत्र भेजा है। इस संदर्भ में प्राथमिक उपचार से संबंधित सामग्री खरीदारी की विस्तृत जानकारी दी है। तीन मार्च को पत्र 1372 के माध्यम से भेजे गए निर्देश में कहा गया है कि वार्षिक कार्य योजना एवं बजट 2022-23 के अंतर्गत विद्यालय सुरक्षा कार्यक्रम के लिए विद्यालयों के लिए दो हजार की दर से राशि स्वीकृत की गई है। इसमें राज प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में फर्स्ट एड किट की खरीदारी करनी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

क्रेप बैंडेज से लेकर एंटीसेप्टिक क्रीम भी रहेगा उपलब्ध :

विद्यालयों में प्राथमिक उपचार के लिए क्रेप बैंडेज, चिमटी, कैची, नेल कटर, सेफ्टी पिन, थर्मामीटर एंटीसेप्टिक डिटाल, सेवलान, बीटाडीन 250 एमएल का बोतल, एंटीसेप्टिक क्रीम सोफ्रामायसिन, बेटाडिन, बोरोलीन, बोरो प्लस की खरीदारी करनी है। इसके अलावा 50 पीस चिपकाने वाला बैंडेज, काटन, जालीदार पट्टी तथा हैंड सेनीटाइजर 500 एमएल की खरीदारी करनी है। राज्य परियोजना निदेशक ने कहा है कि जिले के प्रारंभिक एवं माध्यमिक विद्यालयों के लिए फर्स्ट एड किट को एक माह के अंदर कराई कराना है। राज्य परियोजना निदेशक द्वारा संबंधित मार्गदर्शिका भी भेजा है। उसी मार्गदर्शिका के अनुसार खरीदारी भी करनी है। इस संबंध में बीईओ शिवजी महतो ने बताया कि प्रारंभिक और माध्यमिक स्कूलों में फर्स्ट एड किट की खरीदारी करनी है। इसके लिए राज्य निदेशक से निर्देश प्राप्त हुआ है।