दारौंदा: सवान विग्रह में युवक की हत्या के बाद पसरा सन्नाटा

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दारौंदा थाना क्षेत्र के दारौंदा-सवान विग्रह मुख्य पथ पर सवान विग्रह गांव स्थित ईंट-भट्टे के समीप रविवार की सुबह करीब साढ़े नौ बजे एक युवक का शव मिलते ही गांव में सनसनी फैल गई। इस घटना के बाद गांव में अफरातफरी का माहौल कायम हो गया। मृतक की पहचान सवान विग्रह निवासी मोहन राम के पुत्र राजू राम उर्फ अशर्फी के रूप में की गई। घटना के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई। बताया जाता है कि राजू राम दारौंदा स्थित एक दुकान काम करता था। ड्यूटी के बाद वह शनिवार की शाम दुकान से चला। जब देर रात तक घर नहीं लौटा तो स्वजनों की चिंता हुई। इस दौरान रविवार की सुबह उसका शव दारौंदा-सवान विग्रह मुख्य पथ पर सवान विग्रह गांव स्थित ईंट-भट्टे के समीप मिलने गांव में सनसनी फैल गई। थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार प्रभाकर ने बताया कि मृतक का मोबाइल शनिवार की शाम सात बजे से बंद बता रहा था। मोबाइल नंबर की जांच तकनीकी टीम द्वारा की जाएगी। इससे पता चलेगा कि घटना के पहले राजू की किन-किन लोगों से बात हुई है या मैसेज किया गया है। वैसे मृत युवक जिस दुकान में काम करता था उस दुकान के मालिक, दुकान के सभी कर्मियों तथा उसके दोस्तो के मोबाइल नंबर की तकनीकी टीम जांच करेगी। उन्होंने बताया कि हत्या का कारण तथा इसमें संलिप्त बदमाशों की पहचान में पुलिस जुटी हुई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

स्वान दस्ता दल कर रही घटना की जांच :

राजू राम की हत्या की घटना की जांच के लिए सारण प्रमंडल से स्वान दस्ता दल घटनास्थल पर पहुंच घटना की जांच की। स्वान दस्ता दल घटनास्थाल से जिस दुकान पर मृतक काम करता था वहां तक पहुंच जांच की। इस दौरान जांच टीम के सदस्यों ने बताया कि बदमाशों की पहचान के लिए जांच चल रही है। इस मौके पर जांच टीम के अलावा महाराजगंज अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राकेश कुमार रंजन, इंस्पेक्टर बालेश्वर राय, महाराजगंज थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार, दारौंदा थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार प्रभाकर , बीडीओ सूर्य प्रताप सिंह सेंगर समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।

घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश :

सवान विग्रह निवासी राजू राम उर्फ अशर्फी की हत्या के बाद शव को देखने के लिए काफी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इस मौके पर कई गांवों के ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंच घटना के संंबंध जानकारी हासिल करने का प्रयास करते देखे गए। घटना को लेकर ग्रामीणों में रोष देखा गया। ग्रामीण इस घटना में संलिप्त बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। शव मिलने के चार घंटे बाद करीब दो बजे प्रशासन द्वारा ग्रामीणों को बदमाशों की शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर शांत कराया तथा शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। इस मौके पर वहीं बीडीओ सूर्य प्रताप सिंह सेंगर, थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार प्रभाकर, पूर्व विधायक अमरनाथ यादव, उमेश कुमार सिंह, जयशंकर पंडित अन्य पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।