एक क्विंटल मछलियों की मौत, समिति को 1 लाख का नुकसान

0
machhali ki maut

परवेज अख्तर/सिवान : बाढ़ को देखते हुए टोका नारायाणपुर स्लुइस गेट पर पदस्थापित होमगार्ड जवान की लापरवाही से दरौली मतस्यजीवी सहयोग समिति को लगभग 1 क्विंटल की मछलियों की मौत हो गई, यह आरोप समिति के अध्यक्ष नंदजी बीन ने लगाया है। इस कारण समिति को लगभग एक लाख रुपये का नुकसान हो गया है। मत्स्य जीवी सहयोग समिति के अध्यक्ष नंदजी बीन एवं सचिव उमेश सहनी ने बताया कि टोका-नारायणपुर, सरदह, ताल से होते हुए नारयणपुर स्लुईस गेट से सरयू नदी के बाढ़ का पानी आता जाता है। मत्स्यजीवी सहयोग समिति के सदस्य सरदह पर मछली पकड़ते हैं। शनिवार को सरयू नदी के जल स्तर में थोड़ी सी बढ़ोतरी होने पर स्लुईस गेट पर पदस्थापित होमगार्ड के जवानों यह देखते हुए कि नदी का पानी ताल की ओर खेत में प्रवेश करने लगा तो तुरंत स्लुईस गेट बंद कर दिया गया। पानी का आवागमन नहीं होने से सरदह में जमा मछली तड़फड़ाने लगी। देखते ही देखते रविवार की सुबह तक लगभग 1 क्विंटल मछली की मौत हो चुकी थी, जिससे समिति को लगभग एक लाख रुपये का नुकसान हो गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal