ट्रेन से पहुंचे डीजीपी ने किया सराय ओपी का निरीक्षण, प्रभारी सस्पेंड

0
police officer suspend

परवेज़ अख्तर/सिवान : बुधवार की देर शाम पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय अप अवध-असम एक्सप्रेस से सिवान पहुंचे। यहां आने के बाद उन्होंने एसपी नवीन चंद्र झा व एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय के साथ सबसे पहले सराय ओपी पहुंच कर निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीजीपी ने सराय प्रभारी कुमार वैभव की जमकर क्लास लगाई। कार्यों में लापरवाही और पिछले 20 दिनों में कई जगह हत्या, लूट की घटनाओं में बढ़ोतरी को देखते हुए एसपी को निर्देश देते हुए सराय प्रभारी को संस्पेंड करने को कहा। गुरुवार को एसपी ने सराय प्रभारी को निलंबित कर दिया। एसपी ने बताया कि निरीक्षण के दौरान यह बात सामने आई कि लूट और हत्या से जुड़े छह कांड में ओपी प्रभारी द्वारा कोई प्रभावी कार्य नहीं किया गया। इसके पूर्व निरीक्षण के बाद डीजीपी शहर के परिसदन पहुंचे। एकाएक डीजीपी के सिवान पहुंचने की सूचना जैसे ही मुख्यालय स्थित सभी थाना के प्रभारियों को हुई सभी में हड़कंप मच गया। शहर की सड़कों के हर चौक-चौराहे पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए गए थे। डीजीपी ने रात में ही पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि शिकायतें जब मिलती हैं तो जांच जरूरी होती है। एक शिकायत की जांच करने आया था जांच पूरी हो गई है। कहाकि आज जो भी हत्याएं हो रही हैं उसके पीछे 60 प्रतिशत रुपया पैसा व भूमि विवाद मूल कारण है। इसके लिए मुख्यालय की ओर से बिहार के सभी थानों को ऐसे विवादों की सूची तैयार करने को कहा गया है। दोनों पक्षों को नोटिस भेजकर थाना पर बुलाया जाएगा। उसका समाधान सीओ द्वारा किया जाएगा। बताया कि मंदिर व मस्जिद को लेकर दो समुदाय में विवाद होता है, मुख्यालय से सभी थानों को अादेश दिया गया है कि जहां जहां तनाव हुआ उन सभी जगहों को चिह्नित करें। जो उन्माद फैलाते हैं ऐसे लोगों की सूची बन कर उन्हें हिरासत में लें। इससे कोई निर्दोष जेल नहीं जाएगा।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here