मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस ने DJ बजाने से रोका तो ग्रामीण हो गये उग्र, तो क्या फिर से कर दिया पुलिस पर हमला, कई पुलिसकर्मी घायल

0

पटना: पुलिस पर पत्थरबाजी करने के आरोप में पुलिस ने गांव के 2 युवकों को जेल भेज दिया है। हिरासत में लिए गए आरोपियों में आयर गांव निवासी ओम प्रकाश चौधरी एवं मिथिलेश चौधरी शामिल है। इसके बाद देर रात ग्रामीण थाने का घेराव कर आरोपी को छोड़ने की मांग करने लगे। वहां से पुलिस ने समझाकर वापस कर दिया गया। घटना के संबंध में जगदीशपुर SDPO श्याम किशोर रंजन ने बताया कि इस मामले में 20 नामजद और 30 अज्ञात लोगों पर FIR दर्ज की गई है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

जगदीशपुर SDPO के अनुसार आयर गांव स्थित पोखरे पर छठ की पूजा होती है। वहां ग्रामीणों ने भगवान सूर्य की मूर्ति बिठाई गई थी। इसे लेकर थाना प्रभारी ने ग्रामीणों से कहा कि सरकार के नए नियम के अनुसार किसी भी मूर्ति को उठाने और जुलूस निकालने के लिए लाइसेंस लिया जाता है। इस पर ग्रामीणों ने कहा कि हम लोग मूर्ति यहीं रखते हैं और पोखरा में ही विसर्जन कर देते हैं। कोई जुलूस नहीं निकाला जाता है।

इसके बाद ग्रामीणों ने शुक्रवार दोपहर मूर्ति विसर्जन के दौरान DJ बजाकर जुलूस निकाला। सूचना पाकर जब थाना इंचार्ज वहां पहुंचे और उन लोगों से पूछा कि आप लोगों ने ऐसा क्यों किया। इसी बात को लेकर पुलिस और ग्रामीणों के बीच बहस हो गई। इसके बाद ग्रामीणों ने एक ASI समेत दो होमगार्ड जवान की पिटाई कर दी। इसके बाद पुलिस ने आरोपी युवकों को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद ग्रामीणों ने जमकर बवाल किया।