EOU का भोजपुर के एक पूर्व थानेदार और जिला कल्याण विभाग के प्रधान लिपिक के ठिकानों पर छापा….पटना-औरंगाबाद में कार्रवाई

0

पटना: आर्थिक अपराध इकाई (EOU) ने मंगलवार को दो भ्रष्ट लोक सेवकों के विरुद्ध आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज करते हुए छापेमारी की है। बालू के अवैध खनन मामले में भोजपुर के सहार के तत्कालीन थाना अध्यक्ष आनंद कुमार सिंह के पटना स्थित दो आवासों पर छापेमारी की जा रही है। पद का दुरुपयोग करते हुए आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में औरंगाबाद जिला समाहरणालय के जिला कल्याण कार्यालय के प्रधान लिपिक अमरेश राम के तीन ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

आनंद कुमार सिंह के राजधानी स्थित बाढ़ थाना के सहरी गांव स्थित पैतृक निवास और रूपसपुर थाना अंतर्गत अपर्णा कालोनी स्थित किराए के मकान में तलाशी ली जा रही है। वहीं अपने पद का दुरुपयोग करते हुए आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में औरंगाबाद जिला समाहरणालय के जिला कल्याण कार्यालय के प्रधान लिपिक अमरेश राम के तीन ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। इसमें औरंगाबाद के जमहौर थाना स्थित पैतृक आवास, औरंगाबाद के मिनी बीघा, वार्ड नंबर 13 स्थित मकान और जिला कल्याण कार्यालय कलेक्ट्रेट, औरंगाबाद स्थित कार्यालय कक्ष में तलाशी ली जा रही है।

आरोप है कि भोजपुर जिले में सहार के थानेदार रहते हुए आनंद कुमार सिंह ने बालू माफियाओं का जमकर साथ दिया। थानेदारी करते हुए बालू माफियाओं के अवैध काम में ये मदद करते थे और उसके एवज में इन्हें रुपए मिलते थे। इनके ऊपर आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज हो चुका है। EOU की टीम ने इनके पटना में रूपसपुर थाना के तहत अपर्णा कॉलोनी में रंजीत सिंह के मकान वाले किराए के घर और पटना के ही बाढ़ में सहरी गांव स्थित पुश्तैनी घर पर छापेमारी की है। इनके ठिकानों पर छापेमारी के लिए EOU ने STF और लोकल थाने की पुलिस की भी मदद ली है।

EOU की दूसरी टीम इस वक्त औरंगाबाद जिले में है। जो वहां के समाज कल्याण शाखा में पोस्टेड प्रधान लिपिक अमरेश राम के सरकारी ऑफिस, वार्ड नम्बर 13 में ब्रह्मस्थान के पास स्थित घर और जमहौर थाना के तहत रामपुर गांव के पुश्तैनी घर को खंगाल रही है। आरोप है कि अमरेश राम ने सरकारी नौकरी करते हुए जमकर अवैध तरीके से रुपयों की उगाही की और अकूत संपत्ति बना ली।