राष्ट्रीय लोक अदालत में 479 मामलों का निष्पादन

0
sewa padhadhikari

परवेज अख्तर/सिवान : राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकार पटना द्वारा दिए गए निर्देश के आलोक में शनिवार को विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 479 मामलों का निष्पादन किया गया। समझौता राशि के रूप में लगभग 2 करोड़ 13 लाख रुपये निश्चित किया गया जिसमें ऑन दी स्पॉट 45 लाख रुपये कैश समझौता राशि प्राप्त की गई। इसके पूर्व विधिक सेवा प्राधिकार के मध्यस्थता सदन में उद्घाटन समारोह को जिला एवं सत्र न्यायाधीश ओम प्रकाश राय ने दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन किया। उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए जिला न्यायाधीश ने उपस्थित पदाधिकारियों एवं पक्षकारों को कहा कि वे कोशिश करें कि मुकदमा सुलह समझौते के आधार पर अल्प समय में निष्पादित हो जाए। न्यायालयों पर बहुत ज्यादा बोझ बढ़ गया है, जिसके चलते त्वरित न्याय आम आदमी को दूभर सा हो गया है। मुकदमे में लगने वाले पैसों को अपने विकास एवं बच्चों की पढ़ाई में खर्च करें। उन्होंने बताया कि लोक अदालत ऐसा फोरम है जहां पक्ष कार मुकदमे में विजय के साथ शांतिपूर्वक हाथ मिलाते हुए घर जाते हैं। तत्पश्चात मामलों का निष्पादन कार्य प्रारंभ हुआ। विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा बनाए गए छह बेंचों में मामलों का निष्पादन किया गया। निष्पादित मामलों में 333 मामले बैंक से जुड़े थे ।जबकि 96 मामले अापराधिक प्रकृति के थे ।2 क्लेम के मामले निष्पादित किए गए और क्लेम राशि का चेक जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने उपस्थित पक्षकार को ऑन द स्पॉट सौंपा। बिजली के 12 मामले एवं टेलीफोन के 33 मामले निष्पादित किए गए। इस क्रम में परिवार न्यायालय एवं अन्य प्रकार के मामलों का भी निष्पादन किया गया। कुल 6 बेंचों में न्यायिक पदाधिकारी क्रमशः अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वितीय अवधेश कुमार द्विवेदी,विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सह अवर न्यायाधीश सुरेश कुमार श्रीवास्तव, अवर न्यायाधीश चतुर्थ आनंद कुमार श्रीवास्तव अवर न्यायाधीश द्वादश पंकज चौहान, अवर न्यायाधीश त्रयोदश एनके प्रियदर्शी एवं प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी अरविंद कुमार की उपस्थिति में मामलों का निष्पादन किया गया। न्यायिक पदाधिकारियों को सहयोग के लिए रिटेनर एवं कोर कमेटी के सदस्यगण अधिवक्ता पूर्व संघ सचिव घनश्याम नाथ तिवारी, डॉ. विजय कुमार पांडेय, जनार्दन सिंह, कामेश्वर तिवारी, अनिल सिंह ने मुकदमों के निस्तारण में अपना दायित्व का निर्वहन किया। इस अवसर पर लोक अदालत के पेशकार रंजीत दुबे, अतुल कुमार, दीपक कुमार मिश्र, सुनीति श्रीवास्तव,बलवंत सिंह तथा न्यायालय में कार्यरत सभी कर्मचारी एवं पेशकार उपस्थित थे। उद्घाटन सत्र में मुख्यालय डीएसपी भी उपस्थित थे। मामलों के निष्पादन के पश्चात जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने पक्षकारों के साथ साथ पदाधिकारियों को भी उनके समर्पण एवं सहयोग को लेकर साधुवाद दिया। इसी शिविर में उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के तत्वावधान में विशेष अभियान के तहत सैकड़ों ऋणि उपस्थित होकररिजर्व बैंक के नियमानुसार अधिकतम रियायत का लाभ लेकर ऋण खातों का निपटारा किया। 70 ऋणखातों में 17 लाख रुपया में चार लाख 50 हजार रुपयेकी वसूली की गई और छह लाख रुपये की छूट दी गई। इस मौके पर क्षेत्रीय प्रबंधकविनोद कुमार, अरुण कुमार विद्यार्थी, मुन्ना कुमार, पारितोष कुमार, रामाधार बैठा, मो. फारुक एवं मो. ग्यासुद्दीन समेत दर्जनों शाखा प्रबंधक उपस्थित थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal