पिता की डांट वजह से सनकी बेटे ने सिवान से भागकर आया रांची

0

परवेज अख्तर/सिवान: सिवान जिले के धानामौती थाना क्षेत्र के धर्म करिया गांव का एक किशोर घर से भागकर रांची आ गया। यह किशोर ट्रेन से रांची आने के बाद रेलवे स्टेशन में था। इस दौरान आरपीएफ के मेरी सहेली टीम की नजर उस पर पड़ गई। आरपीएफ की महिला सिपाहियों ने किशोर को पकड़कर पूछताछ की तो उसने बताया कि पिता की डांट के बाद वह घर से भाग कर आया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

किशोर ने बताया कि उनके पिता मोबाइल पर बात करने के लिए डांट रहे थे। इससे नाराज होकर वह घर छोड़कर भाग खड़ा हुआ। आरपीएफ की मेरी सहेली टीम ने किशोर को रांची चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया है। रांची चाइल्ड लाइन में तैनात अधिकारी ने किशोर के परिजनों को फोन कर किशोर के यहां आने की जानकारी दे दी है। अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही किशोर के परिजन रांची पहुंचेंगे। इसके बाद किशोर को उनके हवाले कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि रांची रेलवे स्‍टेशन पर आरपीएफ की मेरी सहेली टीम काफी अच्छा काम कर रही है। यह टीम किशोर और किशोरियों को सुरक्षा देने के लिए बनाई गई है। टीम में महिला सदस्यों को ही रखा गया है। रांची रेलवे स्टेशन की आरपीएफ की मेरी सहेली टीम अभियान शुरू होने से अब तक लगभग 35 किशोर-किशोरियों को तस्करों के चंगुल से बचाकर उनके परिजनों को सौंप चुकी है। इसी तरह घर से भागकर इधर-उधर जाने वाले किशोर-किशोरियों को भी यह टीम पकड़ कर उनके परिजनों को सौंप चुकी है।