पिता का आरोप, कहा- गौरव की हत्या के पीछे मां-बेटों का हाथ

0
gil garments

परवेज अख्तर/सिवान :- बिहार के सीवान जिले के जेपी चौक स्थित गील गारर्मेन्टस के मालिक सूर्य तिवारी के 16 वर्षीय पुत्र गौरव तिवारी की डूबने से हुई मौत की घटना ने नया मोड़ ले लिया है. मालवीय नगर में रहने वाले गौरव के पिता सूर्य तिवारी ने शुक्रवार को एसडीपीओ जितेन्द्र पांडेय से मिलकर बेटे की मौत के पीछे पड़ोस की एक महिला और उसके दोनों बेटों की साजिश बताया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

एसडीपीओ को दिए गए आवेदन में सूर्य तिवारी ने कहा है कि पड़ोस की महिला गुड़िया देवी के दोनों बेटे गौरव को लेकर मेहंदार गए थे, जहां उसने तलाब में डूबो हत्या कर दी। इसके पीछे महिला की साजिश थी, क्योंकि घटना के बाद पकड़े जाने के भय से महिला ने उनकी दुकान पर आकर झांसा देने का प्रयास किया था। कहा था कि उनके बेटों के साथ गौरव नहीं गया है, जबकि दोनों के साथ वह भी मेहंदार गया था।

इतना ही नहीं महिला ने कई बार शंका होने पर जब वह मेहंदार जाने के लिए तैयार हुए तो वह सोहगरा जाने के लिए उनपर दवाब बनाने लगी। एक किशोर के डूबने की सूचना पर किसी तरह वह जब मेहंदार जाने के लिए निकले तो महिला के दोनों बेटों से सिसवन ढ़ाला पर मुलाकात हुई लेकिन उसने बातचीत नहीं करने दी। इसके बाद वह किसी तरह बेटे को ढूढ़ते हुए मेहंदार पहुंचे जहां देर रात प्रयास करने के बाद गौरव के शव को सुबह में तलाब से बरामद किया गया।

सूर्य तिवारी ने इस मामले में दर्ज यूडी केस को हत्या में बदलने की एसडीपीओ से गुहार लगाते हुए गहराई से छानबीन करने की मांग की है। कहा है कि उनके द्धारा उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर गौरव की हत्या में महिला की साजिश है।