मां-बेटी की मौत मामले में पिता ने दर्ज कराई प्राथमिकी

0
fir

परवेज अख्तर/सिवान : मां-बेटी की संदिग्ध अवस्था में हुई मौत के मामले में मृतका के पिता द्वारा शुक्रवार को स्थानीय थाने में आवेदन देकर सास-ससुर, पति एवं देवर पर दहेज को ले प्रताड़ित करने और दहेज़ नहीं मिलने पर पुत्री एवं छह माह की मासूम नातीन को मार कर साक्ष्य छुपाने के लिए जला देने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है। गौरतलब है थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव से गुरुवार को पुलिस द्वारा मुद्रिका भगत के घर से मां-बेटी का शव संदिग्ध अवस्था में बरामद किया गया था। मृतका अमृता के पिता एवं थाना क्षेत्र मुड़ा मझौवा गांव निवासी वृज विहारी भगत द्वारा दिए आवेदन में आरोप लगाया है कि मैंने अपनी पुत्री अमृता की शादी वर्ष 2016 में थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव निवासी मुद्रिका भगत के बड़े पुत्र प्रकाश कुशवाहा उर्फ टुलु से की थी। शादी के कुछ दिन बाद से ही सास-ससुर, पति एवं देवर द्वारा दहेज को ले प्रताड़ित करना शुरू कर दिया गया। इस दौरान ससुराल पक्ष द्वारा कई बार मेरी पुत्री के साथ मारपीट भी की गई। बुधवार की रात्रि में मेरी पुत्री अमृता एवं छह माह की नातीन प्रिया कुमारी को मार कर जला दिया गया। गुरुवार को ग्रामीणों द्वारा मुझे मेरी पुत्री को मार देने की सूचना दी गई।थानाध्यक्ष जयनारायण राम ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।