भीषण अगलगी में चार झोपड़ीनुमा घर जले, लाखों की संपत्ति जली

0
aag lagi

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के महाराजगंज प्रखंड के तक्कीपुर गांव में गुरुवार की रात्रि अगलगी की घटना में चार झोपड़ीनुमा जलकर बर्बाद हो गए। अगलगी से चारों घरों के अंदर रखे सामान भी राख में तब्दील हो गए। जले सामान की कीमत करीब एक लाख रुपये से अधिक बताई जाती है। रात में आगजनी की घटना के बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने आग पर काबू पाने का प्रयास किया लेकिन आग की लपटें तेज होने के कारण ग्रामीण कुछ ना कर सके। घटना के संबंध में बताया जाता है कि तक्कीपुर निवासी जनार्दन मांझी, धनंजय मांझी, लक्ष्मण मांझी, जयलाल मांझी,विनय मांझी, मुकुल मांझी का परिवार भोजन करने के बाद सो गया था। तभी अचानक जनार्दन मांझी के घर से आग की लपटें दिखाई दी। जनार्दन मांझी कुछ समझ पाते कि इससे पूर्व आग की लपटें तेज हो गईं। आवाज सुनकर घर में सोए अन्य सदस्य किसी तरह से बाहर निकले। देखते देखते घर में रखे कपड़े, अनाज, गहना, नकदी समेत एक लाख से अधिक की संपत्ति जलकर राख हो गई। आग की लपटें इतनी तेज थीं कि बगल में स्थित धनंजय मांझी, लक्ष्मण मांझी, जयलाल मांझी के घर को भी अपनी चपेट में ले लिया। अभी ग्रामीण कुछ समझ पाते तभी चारों घरों में रखे सारे सामान जलकर राख हो गया। आग की लपट तेज देख सैकड़ों ग्रामीण जुट गए तथा पास में स्थित पानी टंकी के पानी से आग बुझाने लगे। काफी मशक्कत के बाद किसी तरह आग पर काबू पाया जा सका। इस घटना में मुकुल मांझी एवं बाबूनंदन मांझी के घर के भी कुछ सामान जलकर राख हो गए। रात्री में ही गांव के सामाजिक कार्यकर्ता राहुल कुमार सिंह ने दर्जनों युवकों के साथ मिलकर सभी परिवारों को सुरक्षित बगल के विद्यालय में आश्रय दिया तथा घटना की सूचना अग्निशमन विभाग, स्थानीय थाने एवं सीओ को दी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal