तेजस्वी यादव पर लगे आरोपों की गोपालगंज DM करेंगे जांच, रिपोर्ट मिलने के बाद फैसला लेगा निर्वाचन आयोग

0

पटना: बिहार के गोपालगंज जिले के दौरे के दौरान महिलाओं को पैसे बांटने का वीडियो शेयर कर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव नए विवाद में घिर गए हैं. जेडीयू ने राज्य निर्वाचन आयोग से तेजस्वी यादव पर कार्रवाई की मांग की है. जेडीयू ने वायरल वीडियो के संबंध में कहा कि तेजस्वी ने चुनाव क्षेत्र में पैसे बांट कर पंचायत चुनाव 2021 के बाबत लागू आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. ऐसे में उनके खिलाफ विधि सम्मत कार्रवाई होनी चाहिए.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

गोपालगंज डीएम करेंगे जांच

इधर, जेडीयू नेता नीरज कुमार की ओर से शिकायत मिलने के बाद गोपालगंज डीएम पूरे मामले की जांच करेंगे. डीएम तेजस्वी यादव पर लगे आरोपों की सत्यता जाचेंगे, जिसके बाद वे आयोग को रिपोर्ट सौंपेंगे. रिपोर्ट आने के बाद ही निर्वाचन आयोग कोई कार्रवाई करेगा.

महिलाओं को दिए थे पैसे

मालूम हो कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गुरुवार को गोपालगंज दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने पूर्व आरजेडी विधायक देवदत्त राय की पुण्यतिथि पर उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण किया. उसके बाद उन्होंने रेवतीथ हाई स्कूल के मैदान में जनसभा को संबोधित की. इस दौरान तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला.

वहीं, कार्यक्रम खत्म कर पटना लौटने के दौरान उन्होंने रास्ते में मिली कुछ महिलाओं से मुलाकात की और खुद को लालू यादव का बेटा बताते हुए उनकी आर्थिक सहायता की. तेजस्वी यादव ने महिलाओं को 500-500 रुपये के नोट दिए और फिर चलते बने.

चुनाव प्रक्रिया प्रभावित करने का आरोप

इस प्रकरण का वीडियो सामने आने के बाद जेडीयू नेता और पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर कार्रवाई करने की मांग की थी. पूर्व मंत्री ने आयुक्त, राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर कर नेता प्रतिपक्ष पर तत्काल कार्रवाई की मांग की थी. जेडीयू नेता का आरोप है कि तेजस्वी ने आचार संहिता लागू होने के बाद जनता के बीच पैसे बांट कर चुनाव प्रक्रिया प्रभावित करने की कोशिश की है.