गोरेयाकोठी: अज्ञात वाहन से कुचलकर वृद्ध की मौत, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गोरेयाकोठी थाना क्षेत्र के सिवान-बसंतपुर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 227 ए पर आज्ञा मठिया के समीप रविवार की अल सुबह एक अज्ञात वाहन ने एक वृद्ध को कुचल दिया इससे उनकी घटनास्थल पर मौत हो गई। मृतक की पहचान आज्ञा मठिया के हरिजन टोला निवासी रामजीत राम के रूप में हुई है। इस घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशितों को समझा बुझा कर शांत करा शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेज दिया। बताया जाता है कि रामजीत राम रविवार की सुबह गांव स्थित चौक पर चाय पीने जा रहे थे। जब वे एनएच 227 ए पार कर रहे थे तभी तेज गति से आ रही एक अनियंत्रित वाहन ने उन्हें कुचल दिया इससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने हाईवे पर बांस-बल्ला रख आवागमन पूरी तरह से ठप कर दिया। इससे घटनास्थल के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। सूचना मिलते ही स्थानीय थाने की पुलिस वहां पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण मानने को तैयार नहीं थे। पुलिस को लोगों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। सुबह करीब छह बजे साढे़ आठ बजे तक सड़क जाम रहने से राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लोगों का कहना था कि दुर्घटना के लिए खतरनाक क्षेत्र होने के बावजूद प्रशासन द्वारा घटनाओं पर रोक के लिए कोई सार्थक पहल नहीं की जाती है। इससे आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है।

ग्रामीणों ने प्रशासन से क्षेत्र में सड़क पार करने के लिए जेब्रा क्रासिंग बनवाने व मृतक के स्वजनों को उचित मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। प्रशासन व जनप्रतिनिधियों द्वारा ग्रामीणों को समझाने-बुझाने एवं मृतक के स्वजन को मुआवजा दिलाने के आश्वासन पर करीब साढ़े आठ बजे जाम खत्म हुआ। रामजीत की मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पत्नी शिवकुमारी देवी समेत अन्य स्वजनों के राेने से गांव में शोक का माहौल कायम हो गया। आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढाढ़स बंधा रहे थे। बताया जाता है कि रामजीत राम का परिवार ईंट-भट्ठा पर काम करता है। रामजीत राम सुबह स्वजनों को चाय पीने व तुरंत वापस आने की बात कह घर से निकले थे। इसी बीच किसी वाहन की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई।