गुठनी: सरयू नदी में लगातार हो रहे कटाव से खेती योग्य भूमि को नुकसान

0

परवेज अख्तर/सिवान: गुठनी सरयू नदी में पानी कम होने के बाद तेजी से कटाव शुरू हो गया है इससे कृषि योग्य सैकड़ों एकड़ भूमि नदी के तेज कटाव से बह गई है। वहीं दियरा इलाकों में नदी द्वारा तेजी से कटाव किया जा रहा है इससे रबी खेती के किसानों को काफी असुविधा हो रही है। उनका कहना है कि कटाव से खेती योग्य भूमि पानी में प्रतिदिन बह जा रही है। ग्रामीणों की माने तो हर साल खेती योग्य सैकड़ों एकड़ कृषि योग्य भूमि को भी भारी नुकसान होता है। वहीं बाढ़ के समय बलुआ, तीरबलुआ, ग्यासपुर, खड़ौली, मैरीटार, सोनहुला, सोहागरा, गोहरुआ, बिहारी, योगियाड़ीह गांव में खतरा मंडराता रहता है। हालांकि ग्रामीणों ने इसकी कई बार शिकायत सांसद, विधायक, डीएम, एडीएम, एसडीओ, बीडीओ व सीओ समेत अन्य पदाधिकारी व जनप्रतिनिधियों को लिखित रूप से की है। ग्रामीणों का कहना था कि लिखित शिकायत के बावजूद आज तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

प्रत्येक साल बाढ़ से होने वाले नुकसान से परेशान ग्रामीणों ने नदी के सटे बांध बनाने की मांग की है। ग्रामीणों का कहना है कि हर साल लोगों को नुकसान उठाना पड़ता है। अगर सरकार सरयू नदी पर बांध बनाए तो इससे करीब एक दर्जन से अधिक गांव को सीधा फायदा होगा। ग्रामीणों ने बाढ़ विभाग की टीम को बताया कि योगियाडीह से लेकर खड़ौली तक लगभग तीन किलोमीटर बांध बनाया जाए तो इससे गुठनी, गोहरुआ, श्रीकलपुर, योगियाडीह, तीरबलुआ, बलुआ, ग्यासपुर, खड़ौली सहित कई अन्य गांव बाढ़ से प्रभावित नहीं होंगे। इस संबंध में कार्यपालक पदाधिकारी नवल किशोर भारती का कहना है कि कटाव की सूचना मिलने के बाद टीम भेजी गई है। उनकी मिली रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।