गुठनी: ग्रामीणों का लाखों लूटकर चंपत हुआ फर्जी कमला निधी बैंक

0
  • लोगों से 80 हजार लोन देने के नाम पर जमा करवाया तीन तीन हजार
  • बुधवार और गुरुवार को मिलना था लोन, इसके पहले बैंककर्मी हुये फरार

परवेज अख्तर/सीवान: गुठनी के तेनुआ मोड़ पर एक चल रहे एक फर्जी बैंक के कर्मचारियों ने लोन देने के नाम पर लोगों से तीन तीन हजार जमा करवाने के बाद लोन देने के दिन गुरुवार के पहले ही बैंक में ताला जड़ कर फरार हो गये है. गुरुवार को लोन लेने पहुंची सैकड़ों महिलाओं ने अपने पैसे लूटते देख हंगामा करने लगी और मौके पर पहुंची पुलिस को अपना आवेदन पत्र सौंपा. महिलाओं ने बताया एक महीना पहले तेनुआ मोड़ पर कमला निधि प्राइवेट लिमिटेड के नाम से एक बैंक का ब्रांच खुला और उसके कर्मचारी क्षेत्र में घूम घूम कर 80 हजार लोन देने के लिये खाता खोलने व इन्सुरेंस कराने के नाम पर तीन तीन हजार की वसूली किये. यही नहीं एक सदस्य को 10 सदस्यीय समूह बनाकर सभी को लोन देने की बात कर पैसा जमा करवाया. कथित बैंक कर्मियों ने गुठनी मैरवा और नौतन प्रखंड के करीब दो सौ गांवों के लगभग दो हजार लोगों को ठगा है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

सभी से पैसा जमा करवाने के बाद बैंक प्रबंधक रोहित सिंह ने पहली जुलाई को 80 हजार लोन देने के लिये बैंक पर बुलाया था. गुरुवार को जब सैकड़ों महिला पुरुष अपना लोन लेने तेनुआ स्थित बैंक पर पहुंचे तो ताला लटका पाया और जांच पड़ताल किया तो पता चला बैंक वाले बुधवार को ही चले गये है. मौके पर पहुंचे एसआई शिवमंगल पासवान ने जांच पड़ताल किया तथा ग्रामीणों ने अपनी समस्या सुनी. प्रभारी थानाध्यक्ष दशरथ सिंह ने कहा बैंक फर्जीवाड़ा से संबंधित ग्रामीणों का आवेदन मिला है. जांच पड़ताल किया जा रहा है. बैंक पर पहुच प्रदर्शन करने वाली महिलाओं में बिंन्दावती देवी,प्रीति, गिरिजा, तेतरी, मंजू देवी, खैरुन नेशा, जमीला खातून, सरस्वती देवी, मीरा देवी, ललिता देवी, चिंता देवी, कलावती देवी सहित दर्जनों महिलाओं सहित काफी संख्या में पुरुष मौजूद थे.