सिवान : हर-हर महादेव व ऊं नम: शिवाय के जयकारों से गूंजे शिवालय

0

परवेज अख्तर/सिवान : हिंदू धर्म का विशेष पर्व महाशिवरात्रि जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में आस्था पूर्वक मनाया गया। गुरुवार को भक्त दूध, दही, घृत, शहद, चंदन से अभिषेक कर महादेव की कृपा प्राप्त की। महादेव का दर्शन करने के लिए बुधवार की देर रात से ही शिवालयों में शिवभक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। हाथों में फूलों की डलिया और लोटे में जल लिए भक्त ”हर हर महादेव”, ”ऊं नम: शिवाय” का उद्घोष करते हुए नंगे पांव ही मंदिर पहुंचे थे। बुधवार की रात शयन आरती से पहले भी श्रद्धालुओं ने महादेव का अभिषेक किया। हर कोई भगवान भोलेनाथ के दर्शन कर जीवन को धन्य कर लेना चाह रहे थे। श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक करने के बाद बाबा को अभ्रक, अबीर, गुलाल, जौ, साठी का चावल, जल, नारियल के जल, केवड़ा, चंदन, काला तिल, कमलगट्टा, दूध, दही, शहद, घी, रोली, गुलाब जल, इत्र, पुष्प, जनेऊ, भांग, शमी पत्र, मंदार पुष्प, भस्म, बेल पत्र, धतूरा भगवान शिव काे अर्पित कर वैश्विक महामारी कोरोना को पूरी तरह से खत्म करने तथा परिवार की सुख समृद्धि व बेहतर स्वास्थ्य की मन्नतें मांगी। श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए मंदिरों के बाहर पुलिस प्रशासन की सख्ती देखने को मिली। गांव से लेकर शहर तक के श्रद्धालु मंदिरों में पहुंचकर भगवान आशुतोष का जलाभिषेक कर विधि विधान से व्रत रखा। मंदिरों व शिवालयों में भीड़ होने के कारण श्रद्धालुओं को घंटों कतार में खड़े होकर अपनी बारी की प्रतीक्षा करनी पड़ रही थी। महाशिवरात्रि पर भगवान शंकर की महिमा का बखान करते हुए कहा कि आचार्य पंडित उमाशंकर पांडेय ने कहा कि भगवान शिव सबकी मनोकामनाएं पूरी कर देते हैं। देवों के देव महादेव का रुद्राभिषेक व्रत रखने वालों को सौभाग्य, समृद्धि और संतान की प्राप्ति होती है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

शिवालयों में जलाभिषेक को कतारबद्ध रहे भक्त :

जिला मुख्यालय समेत महादेवा पंचमुखी शिव मंदिर, डाक बंगला रोड, फतेहपुर, कचहरी रोड, फतेहपुर, स्टेशन रोड, भावनाथ मंदिर, श्रीनगर मंदिर समेत अन्य शिवालयों में श्रद्धालुओं की भीड़ देखी गई। मखदूम सराय स्थित महावीर शिव मंदिर में श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक कर मन्नते मांगी।

मेंहदार व सोहागरा में जलाभिषेक को उमड़े लाखों श्रद्धालु :

सिसवन के मेहंदार स्थित महेंद्रनाथ मंदिर के प्रधान पुजारी तारकेश्वर उपाध्याय ने बताया कि शाम तक पांच लाख से अधिक तथा गुठनी के सोहागरा धाम स्थित बाबा हंसनाथ मंदिर में सवा लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। इसके अलावा सेलौर, ओदिखोर, बलुआ, चिताखाल, बेलौड़ी तथा पड़ोस के दरौली के चकरी मंदिर परिसर के विशालकाय शिवलिंग पर भी शिव भक्तों ने पूजा अर्चना कर जलाभिषेक किया। शांति व्यवस्था को ले एसडीओ रामबाबू बैठा, एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय समेत सिसवन अंचलाधिकारी इंद्रवंश राय, आंदर प्रभाग के निरीक्षक रणधीर कुमार, थानाध्यक्ष कुमार वैभव, चैनपुर ओपी प्रभारी राकेश कुमार, एसआई गणेश कुमार, गुठनी थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह, बीडीओ व सीओ समेत महिला तथा पुरुष कांस्टेबल के साथ मेले के दौरान गश्त करते देखे गए।

हरिराम ब्रह्म का जलाभिषेक कर मांगी मन्नतें :

मैरवा प्रखंड के मैरवा धाम स्थित बाबा हरिराम ब्रह्म का जलाभिषेक कर मन्नतें मांगी। इसके अलावा श्रद्धालु कबिता गांव स्थित कालभैरव मंदिर में जाकर पूजा अर्चना किया।

अकोल्ही में हजारों श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक :

जीरादेई प्रखंड अकोल्ही स्थित अनंतनाथ धाम, ठेपहां स्थित गौरीशंकर बाबा मंदिर, भरौली मठ, संथुबंथु, जामापुर, तितरा समेत क्षेत्र के सभी मंदिरों में हजारों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। भगवानपुर, खैरवा, मलमलिया, मोरा, बसंतपुर मुख्यालय के जानकी नगर, करही, सूर्यपुरा, रामपुर, शामपुर, बगहा, राजापुर, बरवा, खोरीपाकर, सेंदुरखा, लकड़ी नबीगंज, डुमरा, लछुआं, मदारपुर, किशुनपुरा, गोरेयाकोठी, शेखपुरा, मुस्तफाबाद, पिपरा, जगदीशपुर, बड़हरिया, यमुनागढ़, कोइरीगांवा, माधोपुर, हथिगाई, आंदर प्रखंड मुख्यालय समेत बंगरा उज्जैन, बाबा के पतेजी, गहिलापुर, कांधपाकड़, असांव, संथु, जयजोर, पतार, पचरुखी, भरतपुरा, सहलौर, मटुक छपरा, बड़रम, जीबी नगर थानाक्षेत्र के हयातपुर जंगली बाबा शिवालय, तरवारा, शिवदह, सकरा, दीनदयालपुर, पिपरा नारायण, श्रीनगर, उसूरी सहित दर्जनों गांव में हजारों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक कर पूजा अर्चना की। नौतन के नागेश्वर महादेव मंदिर रामपुर, सिसवा लोहार टोली, शाहपुर मठिया, चैनपुर शिवमंदिर, कुसौंधी के प्राचीन शिवमंदिर, रघुनाथपुर बाजार नर्वदेश्वर शिव मंदिर, जमनपुरा स्थित जटहवा बाबा शिवमंदिर, टारी, हसनपुरा, उसरी, रजनपुरा, हुसैनगंज के बड़रम, सुरापुर, छपिया, तरवारा, उसुरी, माधोपुर, दरौली, बसंतपुर, दारौंदा प्रखंड के समेत सभी प्रखंडों के शिवालयों में सुबह से देर शाम तक श्रद्धालुओं की भीड़ जलाभिषेक को उमड़ी रही।

मेले में श्रद्धालुओं ने की खरीदारी :

शहर के महादेवा, सोहागरा, मेहंदार, अकोल्ही समेत अन्य जगहों पर मंदिर परिसर में मेले लगे रहे। जहां पुरुष व महिला श्रद्धालुओं ने दर्शन पूजन के बाद चाट-पकौड़ी, गुड़हिया जलेबी का आनंद उठाया और घरेलू सामानों, सौंदर्य प्रसाधन तथा खिलौनो की खरीदारी की। वहीं मंदिर समितियों द्वारा भंडारे का भी आयोजन किया गया, जिसमें भक्तों ने महाप्रसाद ग्रहण किया। इस दौरान श्रीश्री शिव महावीर मंदिर महावीरपुरम में भंडारे का आयोजन किया गया। इस दौरान विजय कुमार, योगेंद्र साह, रामावतार प्रसाद, उमाशंकर प्रसाद, दीपक जायसवाल, मदन शर्मा, मिट्ठू जायसवाल, हरि प्रसाद समेत अन्य श्रद्धालुु मौजूद थे।

शिष्यों ने किया जलाभिषेक

महाशिवरात्रि के अवसर पर गुरुवार को आंदर प्रखंड के जानकी संस्कृत प्राथमिक, मध्य एवं उच्च सह महाविद्यालय गुरुकुल बरवा में पढ़ने वाले शिष्यों ने फाजिलपुर गांव स्थित शिव मंदिर में जलाभिषेक किया। मौके पर प्राचार्य विजय प्रकाश पाठक उर्फ ददन पाठक, हरेकृष्ण तिवारी, विनय तिवारी, नीरज पाठक, दीपनारायण तिवारी, चंदन तिवारी उपस्थित थे। वही असांव, पतार, आंदर, जयजोर, गहिलापुर, फाजिलपुर, भवराजपुर, जमालपुर, रुइया बंगरा आदि शिवालयों में श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना किया।

भंडारे में महाप्रसाद का किया गया वितरण

शहर के महादेवा स्थित पंचमुखी शिवमंदिर के समीप आदर्श सेंट जेवियर्स पब्लिक स्कूल प्रबंंधन के सौजन्य से भंडारे का आयोजन किया गया। सुबह छह बजे से ही ऊं नम: शिवाय के जयकारे के साथ महाभंडारा का शुभारंभ किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में भक्तों ने भगवान शिव का आशीर्वाद लेकर प्रसाद ग्रहण किया। भक्त महाप्रसाद पाकर अपने को धन्य समझ रहे थे। मौके पर विद्यालय के चेयरमैन अभिषेक रंजन, प्रधानाचार्य परिमल सिंह, शिक्षक संजीव कुमार, टीपी कुमार, शिक्षक और छात्रावास के बच्चें मौजूद थे।