हुजूर की आमद मरहबा, आका की आमद मरहबा के नारों से गूंज उठा शहर

0
id miladun nabi

हर्षोल्लास के साथ जश्ने ईद-मिलाद-उन-नबी संपन्न

चप्पे-चप्पे पर थी पुलिस की तैनाती

परवेज अख्तर/सिवान : जिला मुख्यालय समेत प्रखंड क्षेत्र में बुधवार को हजरत पैगंबर के जन्मदिवस जश्ने ईद-मिलाद-उन-नबी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान मुस्लिम समाज के लोगों ने जश्न मनाया। इस दौरान गली मोहल्लों से जुलूस-ए-मोहम्मदी निकाली गई। मुस्लिम समाज के लोग पैगंबर हजरत मोहम्मद के आमद पर खुशी का इजहार करते नजर आए। जगह-जगह सभी समुदाय के लाेगों द्वारा जुलूस का स्वागत किया गया। जुलूस में शामिल नबी के दिवाने नातिया तरानों पर झूमते रहें। इस दौरान हुजूर की आमद मरहबा आका की आमद मरहबा की आवाज फिजा में गूंजती रही। कदम कदम पर या रसूल अल्लाह के नारे लगाए जा रहे थे।EID miladun nabi क्या बच्चे, क्या बूढ़े, क्या नौजवान, सभी के चेहरे पर खुशी दिख रही थी। जुलूस में नौजवानों ने हाथों में झंडा थामे हुए हुजूर की आमद में जश्न मनाया। डीजे की धुन पर अरबी लिबास पहने युवा मोहम्मदी झंडा लहराते हुए पूरे शहर का भ्रमण किया गया। जुलूस में शामिल झाकियांे पर लगे बैनर पर इस्लामी नारे और कलमें लिखे थे। पूरे शहर को रंगीन झालर, बैलून व झंडों से सजाया गया था। जुलूस-ए-मोहम्मदी के लिए मुस्लिम समाज के लोगों ने बेहतरीन तैयारी की थी। पुरानी किला मैदान से जुलूस-ए-मोहम्मदी का आगाज हुआ। यह जुलूस शहर के सराय मोड़, तेलहट्टा बाजार, बड़ी मस्जिद रोड़, कागजी मोहल्ला, शास्त्री नगर, जेपी चौक, दरबार मस्जिद, थाना रोड़ होते हुए हाफिजी चौक स्थित ग्यारहवीं शरीफ मस्जिद पहुंचकर संपन्न हुआ। जुलूस में युवा झंडा लहराते हुए जश्न मना रहे थे। वही कई युवाओं को सेल्फी लेते नजर आए। महिलाएं घरों की छत से जुलूस का लुत्फ उठा रहीं थी। जुलूस के दौरान उलेमाओं द्वारा नबी के शान में नात पाक तकरीर कर रहे थे। ग्यारहवीं शरीफ मस्जिद में मौलाना शबीहुल कादरी द्वारा सलातो सलाम पढ़े गए और देश की तरक्की के लिए दुआ की गई। इस दौरान तकरीर में आए मौलाना ने सभी को पैगंबर साहब के जन्मदिन पर मुबारकबाद देते हुए सभी मोमिनों को अपने अंदर की बुराइयों को खत्म कर अपने नबी आका सल्लल्लाहो सल्लम के नक्शे कदम पर चलने का आह्वान किया। साथ ही नात-ए-पाक पढ़ी गई। eid

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads

चप्पे चप्पे पर थी पुलिस की तैनाती

जुलूस के दौरान शहर के विभिन्न मुख्य चौराहों पर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई थी। जुलूस की मॉनिटरिंग सीसीटीवी से की जा रही थी। किसी तरह की कोई अप्रिय घटना न हाे इसके लिए पुलिस के वज्र वाहन लगातार शहर का चक्कर लगा रहे थे। मौके पर सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष मंसूर आलम, पूर्व वार्ड पार्षद इंतखाब अहमद, सुधीर जयसवाल, राजीव रंजन राजू, विकास कुमार िसंह उर्फ जिशु सिंह, वार्ड पार्षद सलीम सिद्दकी पिंकू, मलीह अहमद, लालबाबू प्रसाद, लखी बाबू, मुखिया सोना खान, मो. कलीम, दारोगा खान समेेत सभी समुदाय के लाेगों ने जुलूस का स्वागत किया। वहीं महादेवा ताकिया से जुलूस-ए-मोहम्मदी निकाली गई। जो शहर के कई मार्गों से होते हुए गुजरा। इस मौके पर रफीक शाह, अहमद रजा, नईम शाह, अरबाज शाह, रजन शाह, टीपू शाह, हैदर शाह, अनवर शाह, जुनैद आलम, अशरफ शाह, अाजाद शाह, अफजल शाह मौजूद थे।eid miladun