कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए 21 जनवरी तक लगी हुई ज्यादातर पाबंदियां हटाने को सरकार पक्ष में नहींं…..

0

पटना: बिहार में कोरोना की तीसरी लहर के बाद सरकार ने 21 जनवरी तक कई तरह की पाबंदियां लगाईं। ताकि कोरोना से निपटा जा सके। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी समाज सुधार अभियान यात्रा के साथ ही जनता दरबार को भी स्थगित कर दिया। बाद में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद कोविड पॉजिटव हो गए थे। अब वे निगिटेव हो चुके हैं। 21 तक लगी पाबंदियों को लेकर अब क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक होने वाली है। लेकिन कोरोना की स्थिति को देखते हुए नहीं लग रहा कि सरकार की ओर से इसमें ज्यादा बदलाव फिलहाल किए जाएं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

उम्मीद है कि जनता दरबार अभी स्थगित रहेगा और मुख्यमंत्री समाज सुधार यात्रा पर भी नहीं फिलहाल नहीं जाएंगे। स्कूलों का संचालन जिस तरह से अभी हो रहा है उसे जारी रखा जाएगा। भक्तों को अभी राहत नहीं मिलेगी क्योंकि मंदिर नहीं खोले जाएंगे। शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल, जिम, पार्क आदि बंद रहेंगे। दुकानें अभी रात 8 बजे तक ही खुली रह रही हैं। इसे अभी इसी तरह जारी रखने की उम्मीद है। खरमास खत्म हो चुका है और शादियों का समय आ गया है, लेकिन इसमें अधिक लोगों की मेहमान नवाजी को मौका अभी नहीं मिलेगी। 50 मेहमानों के साथ शादी करने की छूट अभी है। इस सब के बावजूद लोगों को सरकार की ओर से जारी होने वाली नई गाइडलाइन का इंतजार है।